इमरान खान को कुर्सी जाने का डर, विपक्ष और आर्मी पर लगाया तख्तापलट की साजिश रचने का आरोप

इमरान खान को कुर्सी जाने का डर, विपक्ष और आर्मी पर लगाया तख्तापलट की साजिश रचने का आरोप

इस्लामाबाद।
स्पेशल डेस्क
तहलका 24×7
                पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को अपनी कुर्सी जाने का डर सता रहा है। इमरान ने आशंका जाहिर की है कि सेना के साथ मिलकर विपक्ष उन्हें सत्ता से बाहर कर सकता है। शुक्रवार को विपक्षी दलों पर हमला बोलते हुए पीएम खान ने कहा कि खुद को लोकतंत्र समर्थक बताने वाले कुछ नेता फौज की मदद से उनकी सरकार का तख्तापलट करने की कोशिशों में जुटे हैं।
एक हाइवे मरम्मत परियोजना की शुरुआत के मौके पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा, “विपक्षी नेता जम्हूरियत का राग अलापते हैं, लेकिन वे सेना की मदद से मेरी सरकार को गिराने की कोशिशों में जुटे हुए हैं”।उन्होंने कहा कि जब से वह सत्ता में आए हैं, तब से विपक्ष उनकी सरकार को नाकाम साबित करने में लगा है। इमरान ने कहा कि विपक्षी नेता पूछता हैं कि बदलाव का क्या हुआ, तो मैं उन्हें समझाना चाहूंगा कि बदलाव रातों-रात नहीं आता, इसमें समय लगता है।

# पीएम इमरान खान के आर्मी से हुए रिश्ते खराब

यहां गौर करने वाली बात यह है कि इमरान पर अभी तक आरोप लगता आया है कि वह सेना की मदद से सत्ता में आए थे। पूर्व प्रधानमंत्री एवं पीएमएल-एन प्रमुख नवाज शरीफ ने पाक सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा और आईएसआई प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल फैज अहमद का नाम लेते हुए कहा था कि इमरान की जीत सुनिश्चित करने के लिए दोनों ने 2018 के चुनाव में दखल दिया था।अब वही इमरान विपक्ष और सेना पर मिलीभगत का आरोप लगा रहे हैं। इससे यही लगता है कि इमरान और सेना के बीच कुछ भी सही नहीं है।

# पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने फिर छेड़ा कश्मीर राग

इस बीच, इमरान खान ने फिर से कश्मीर राग छेड़ा है उन्होंने शुक्रवार को कहा कि यदि भारत जम्मू-कश्मीर में पहले वाली स्थिति बहाल करता है, तो हम बातचीत कर सकते हैं। भारत के विदेश मंत्रालय ने इस पर अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। गौरतलब है कि भारत ने 2019 में जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 समाप्त कर उसे दो केंद्र शासित प्रदेश बना दिया था इसके बाद से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। उसके नेता बार-बार कश्मीर पर बयानबाजी कर रहे हैं।
Previous articleफर्जी कोरोना रिपोर्ट मामले में कैबिनेट मंत्री का छापा, आउटसोर्स कर्मचारी हिरासत में
Next articleजौनपुर : मदर निसा फाउंडेशन ने किया पौधारोपण, औषधीय पौधों का किया रोपण
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏