उत्तर प्रदेश राज्य मुख्यालय मान्यता प्राप्त संवाददाता समिति का चुनाव कल…

उत्तर प्रदेश राज्य मुख्यालय मान्यता प्राप्त संवाददाता समिति का चुनाव कल… 

# किसके सिर सजेगा अध्यक्षी का ताज, आधी रात के बाद पता चलेगा, 20 वोट पड़ चुके हैं

# 83 प्रत्याशियों में से 23 को चुनेंगे 860 मतदाता

लखनऊ।
विजय आनंद वर्मा
तहलका 24×7
           उत्तर प्रदेश में यूं तो पत्रकारों के अनेक संगठन हैं, परन्तु मुख्य संगठन जो सरकार की नजर पत्रकारों का सबसे बड़ा संगठन है, वह है “उत्तर प्रदेश राज्य मुख्यालय मान्यता प्राप्त संवाददाता समिति” जिसका बहुप्रतीक्षित चुनाव कल होने जा रहा है। मान्यता प्राप्त संवाददाता समिति के 860 मतदाता रविवार को एनेक्सी स्थित मीडिया प्रेस कक्ष में अपने मताधिकार का प्रयोग कर अपने नए अध्यक्ष व अन्य पदाधिकारियों को चुनेंगे। वैसे तो करीब 23 करोड़ की आबादी वाले यूपी में तहसील, ब्लाक, वार्ड, शहर एवं जिला स्तर पर करीब 70 हजार पत्रकार हैं। लेकिन इस चुनाव में वही पत्रकार वोट डालेंगे जो राज्य स्तरीय सरकारी मान्यता प्राप्त हैं।

उत्तर प्रदेश राज्य मुख्यालय मान्यता प्राप्त संवाददाता समिति के चुनाव हेतु रविवार सुबह 10 बजे से मतदान शुरू होगा जो शाम 5 बजे तक चलेगा। एक घंटे बाद मतगणना शुरू होगी, अंतिम परिणाम देर रात को आएगा। मतगणना पूरी होने में रात का एक बज सकता है। 23 पदों के लिए इस बार कुल 83 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं।

हेमंत तिवारी (अध्यक्ष पद के फिर दावेदार)

इस बार 23 पदों के लिए कुल 83 पत्रकार चुनावी मैदान में उतरे है, जिनमें अध्यक्ष के एक पद के लिए 8 उम्मीदवार, सचिव के एक पद के लिए 5, कोषाध्यक्ष के एक पद के लिए 4 उम्मीदवार, उपाध्यक्ष के 3 पदों के लिए 16, संयुक्त सचिव के 3 पदों के लिए 14 और कार्यकारिणी सदस्य पद के 14 पदों के लिए 38 प्रत्याशी मैदान में हैं।

मनोज मिश्रा (अध्यक्ष पद के दावेदार)

चुनाव को निष्पक्ष शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने के लिए 5 सदस्य चुनाव समिति का गठन किया गया है जिसमें वरिष्ठ पत्रकार शरद प्रधान, प्रांशू मिश्रा, विजय उपाध्याय, टीबी सिंह, सुश्री नाईला किदवई व सुलतान शाकिर हाशमी शामिल हैं। पर्यवेक्षक के तौर पर वरिष्ठ पत्रकार सुरेश बहादुर सिंह को जिम्मेदारी दी गई है।

ज्ञानेंद्र शुक्ला (अध्यक्ष पद के दावेदार)

# तेईस पदों के लिए ये पत्रकार हैं दावेदार…

उत्तर प्रदेश राज्य मुख्यालय मान्यता प्राप्त संवाददाता समिति के अध्यक्ष पद के लिए हेमंत तिवारी (निवर्तमान अध्यक्ष), मनोज कुमार मिश्रा, ज्ञानेंद्र शुक्ला, अमित मिश्रा, डॉ एके सेठ, नीरज कुमार तिवारी, प्रभात कुमार त्रिपाठी एवं अब्दुल मोईज खान मैदान में हैं।

शिव शरण सिंह (सचिव पद के फिर दावेदार)

जबकि सचिव के पद के लिए शिव शरण सिंह (निवर्तमान सचिव), अजय श्रीवास्तव, भारत सिंह, कुलसुम तल्हा, शबी हैदर मैदान में है। कोषाध्यक्ष पद के लिए आलोक कुमार त्रिपाठी, अनिल कुमार सैनी, हुमायूं चौधरी और संजय कुमार चतुर्वेदी मैदान में हैं।

अजय श्रीवास्तव (सचिव पद के दावेदार)

उपाध्यक्ष के तीन पदों के लिए अभ्युदय अवस्थी, आकश शेखर शर्मा, अमिताभ त्रिवेदी, आशीष कुमार सिंह, दिलीप कुमार सिंह, हेमन्त कुमार मैथिल, कौसर जहां, मोहम्मद ताहिर, राजीव तिवारी बाबा, शेखर पंडित, संजोग वाल्टर, सुरेन्द्र अग्निहोत्री, एसएम पारी, तमन्ना अंजुम, तमन्ना फरीदी और ज़फर इरशाद चुनाव लड़ रहे हैं।

आलोक कुमार त्रिपाठी (कोषाध्यक्ष पद के दावेदार)

संयुक्त सचिव के तीन पदों के लिए अभिषेक रंजन, अब्दुल अजीज सिददीकी, दया बिष्ट, हरीश काण्डपाल, हेमन्त कृष्णा, इंदरेश रस्तोगी, जितेन्द्र कुमार दुबे, एमएम मोहसिन, नावेद शिकोह, राघवेन्द्र प्रताप सिंह, शबीहुल हसन, शेखर श्रीवास्तव, सुरेश यादव और विजय कुमार त्रिपाठी मैदान में है।

अभिषेक रंजन (संयुक्त सचिव पद के दावेदार)

कार्यकारिणी सदस्य के 14 पदों के लिए अबरारूल हसन, अफरोज रिजवी, अमरीश शुक्ला, अंशु श्रीवास्तव, अंशुमान शुक्ल, अतीकुर रहमान, धीरेन्द्र बहादुर श्रीवास्तव, दिलीप कुमार, दिलीप सिन्हा, जितेन्द्र कुमार सिंह यादव, काजिम जहीर, केसी विश्नोई, मोहम्मद जुबैर अहमद, मोहम्मद वसीम, निसार अहमद फारूखी, पवन मिश्रा, पवन कुमार सिंह, प्रभुप्रीत सिंह (पीपी सिंह), प्रेम शंकर अवस्थी, प्रमोद कुमार श्रीवास्तव, राघवेन्द्र प्रताप सिंह, राजेश जायसवाल, सुश्री रितेश सिंह, सुश्री रेनू निगम, रोहित कान्त मिश्रा, रूपेन्द्र उपाध्याय, राम कृष्ण बाजपेई, राज कुमार बाजपेई, संतोष कुमार, सरोज त्रिवेदी, सैय्यद अख्तर अली, शिव नरेश सिंह, शिशुपाल सिंह, सुभाष चन्द्र विश्वकर्मा, सुलतान शहरयार खान, विजय कुमार निगम और विनय प्रकाश सिंह‌ प्रत्याशी हैं।

राघवेन्द्र प्रताप सिंह (कार्यकारिणी सदस्य पद हेतु)

# किस मीडिया समूह से कितने हैं मतदाता…

उत्तर प्रदेश राज्य मुख्यालय मान्यता प्राप्त संवाददाता समिति के 860 मतदाताओं में सर्वाधिक संख्या प्रिंट मीडिया के है, जिनकी संख्या है 485 है। इसके बाद इलेक्ट्रॉनिक मीडिया से 165, न्यूज एजेंसी से 58 मतदाता हैं। जबकि मान्यता प्राप्त स्वतंत्रत पत्रकारों की संख्या 93 और मान्यता प्राप्त वरिष्ठ पत्रकारों की संख्या 59 है। इनमें से करीब 20 मतदाता, जो मतदान वाले दिन लखनऊ में उपस्थित नहीं रहेंगे अपने मताधिकार का शुक्रवार तक प्रयोग कर चुके थे।
Mar 20, 2021

Previous articleजौनपुर : समाजवादी चिकित्सा सभा की बैठक सम्पन्न
Next articleजौनपुर : बाबा साहब के विचारों को आगे बढ़ाने की जरुरत- आशीष अंशू
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏