एक ही थाना क्षेत्र के तीन घरों में चोरी, इंजीनियर के घर से उड़ाये 32 लाख के गहने

एक ही थाना क्षेत्र के तीन घरों में चोरी, इंजीनियर के घर से उड़ाये 32 लाख के गहने

वाराणसी।
मनीष वर्मा
तहलका 24×7
              फूलपुर थाना क्षेत्र के तीन घरों में बीती रात चोरों ने धावा बोला। बेलवा गांव में रियल स्टेट में इंजीनियर के घर मे हुई चोरी में चोरों ने 32 लाख रुपए के सोने-चांदी के गहने चुरा ले गए। घटना की जानकारी होते ही गांव में हड़कंप मच गया। इसके अलावा दो अन्य जगह भी चोरी हुई। घटना की जानकारी होने पर पुलिस मौके पर पहुंची और छानबीन कर लौट गई।

बेलवा गांव (बड़ी) निवासी सुरेन्द्र प्रसाद मिश्र के घर मे बीती रात एक बजे सीढ़ी के सहारे घर मे घुसे चोरों ने तीन कमरे के अलमारी व बक्से को तोड़कर उसमे रखे 500 ग्राम सोने व 6 किलो चांदी के जेवर चुरा ले गए। पीड़ित सुरेंद्र ने बताया कि सोने की पांच चेन,15 अंगूठी, तीन मटर माला, 8 चूड़ी, 16 कान का झुमका, आठ बाली तथा चांदी के 6 करधनी, 25 जोड़ी पायल, सात जोड़ी पैजनी, छागल, 8 चूड़ा चुरा ले गए। सभी गहने हॉलमार्क हैं।

भुक्तभोगी सुरेंद्र ने बताया कि उनकी पत्नी की नींद खुली तो वह आवाज सुनकर बरामदे में आई और बल्ब जलाई तो दो चोर भागते नजर आए। जिसमें एक चोर का कॉलर भी पकड़ी लेकिन उन्हें धक्का देकर भाग गया। उनके मुताबिक एक लगभग 18 वर्ष और नाटे कद काठी का तथा दूसरा 20 वर्ष का था और काले रंग का हाफ पैंट और टी-शर्ट में था।

शोर मचाने पर जब तक परिवार के अन्य सदस्य पहुंचते तब तक दोनों चोर सीढ़ी के रास्ते भाग गए। सुरेंद्र के मुताबिक चोरों के हाथ 32 लाख रुपये से अधिक के सोने-चांदी के गहने हाथ लगे। सुरेंद्र मिश्र गांव में रहकर खेती करते है। लेकिन उनके भाई राजेंद्र, भतीजे व लड़के दिल्ली व गुड़गांव स्थित एक रियल स्टेट कंपनी में सिविल इंजीनियर है।

वहीं सुरेंद्र के पड़ोसी मनोज दुबे के घर मे घुसे चोरों के हाथ मे मात्र तीन हजार रुपए लगे। बेलवा गांव से एक किमी दूर स्थित छिरिया गांव में आशा पांडेय के घर से भी 15 से 20 हजार रुपये के नगदी समेत जेवरात चुरा ले गए। फूलपुर पुलिस ने 32 लाख रुपये की चोरी को संदिग्ध बता रही है। पुलिस के मुताबिक अभी चोरी गए रकम की जानकारी नहीं दी गई है।
Previous articleIAS अफसर पर MBBS छात्रा ने लगाया यौन शोषण का आरोप
Next articleचार दिन से लापता मऊ निवासी 12वीं के छात्र का शव गाजीपुर में मिला, कई जगह चोट के निशान
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏