कवि जटायु की रचनाएं हैं मानवता की महान गाथा- कोमल शास्त्री

कवि जटायु की रचनाएं हैं मानवता की महान गाथा- कोमल शास्त्री

# साहित्य दिवस के रूप में मनाया गया कविराज जटायु का जन्मदिन

# बाइस विभूतियों का हुआ सम्मान

कादीपुर।
मुन्नू बरनवाल
तहलका 24×7
           कवि जटायु की रचनाएं मानवता की महान गाथा हैं। लोक चेतना जटायु की कविताओं का मूल तत्व है। जटायु का ज्वाला महाकाव्य हिंदी साहित्य की अमूल्य निधि है उक्त बातें राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित साहित्य भूषण कोमल शास्त्री ने कहीं। वे आशुकवि मथुरा प्रसाद सिंह जटायु के जन्मदिन पर आयोजित साहित्य दिवस समारोह को बतौर मुख्य अतिथि सम्बोधित कर रहे थे।कौण्डिन्य साहित्य सेवा समिति व सरप्राइज शिक्षण संस्थान की ओर से आयोजित इस समारोह में विभिन्न क्षेत्रों में योगदान देने वाले बाइस विभूतियों को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर आयोजित संगोष्ठी में विशिष्ट अतिथि संत तुलसीदास पीजी कालेज के भूगोल विभागाध्यक्ष डॉ इन्दु शेखर उपाध्याय ने कहा कि कवि मथुरा प्रसाद सिंह जटायु साहित्य को जीने वाले कवि हैं पूरा क्षेत्र उनकी सहजता और सरलता का कायल है।

वहीं राजकीय महाविद्यालय ढिंढुई के प्राचार्य डॉ सिंकदर लाल ने कहा कि कई विशिष्ट कृतियों के रचयिता कविराज मथुरा प्रसाद सिंह जटायु के जन्मदिन को साहित्य दिवस के रूप में मनाना कादीपुर क्षेत्र की अभिनन्दनीय परम्परा है। जटायु हिंदी के चर्चित कवि हैं उनकी रचनाओं का सही मूल्यांकन होना अभी बाकी है। अभिदेशक के सम्पादक डॉ ओंकारनाथ द्विवेदी ने कहा कि जटायु के सम्पर्क ने कई लोगों को साहित्यकार बना दिया है। उनकी कविताएं बहुमूल्य हैं।अध्यक्षता करते हुए डॉ. आद्या प्रसाद सिंह ‘प्रदीप’ ने कहा कि जटायु लोक मर्मज्ञ कवि हैं। भाषा और छंदों पर उनकी पकड़ मजबूत है। साहित्य, समाज और शिक्षा तीनों क्षेत्र में मथुरा प्रसाद सिंह जटायु ने अमिट छाप छोड़ी है।

समारोह में स्वागत भाषण राणा प्रताप स्नातकोत्तर महाविद्यालय के असिस्टेंट प्रोफेसर ज्ञानेन्द्र विक्रम सिंह ‘रवि’, आभार ज्ञापन युवा साहित्यकार पवन कुमार सिंह व संचालन वरिष्ठ साहित्यकार डॉ सुशील कुमार पाण्डेय ‘साहित्येंदु’ ने किया। सरस्वती पूजन व दीप प्रज्जवलन से शुरू हुए समारोह में उपस्थित अतिथियों ने तिलक और माल्यार्पण कर मथुरा प्रसाद सिंह जटायु को जन्मदिन की बधाई दी।इस अवसर पर आयोजक अंकित कृष्ण पांडेय, डॉ. महिमा द्विवेदी, जिलेदार सिंह, सुरेन्द्र यादव, सर्वेश कांत वर्मा, डॉ समीर पाण्डेय, डॉ करुणेश भट्ट, मुंशी रजा, मुंशी राम प्यारे प्रजापति, एडवोकेट मनोज सिंह समेत अनेक प्रमुख व्यक्ति उपस्थित रहे।

# इन्हें मिला सम्मान…

डॉ आद्या प्रसाद सिंह ‘प्रदीप’, कोमल शास्त्री (अम्बेडकर नगर), मथुरा प्रसाद सिंह जटायु, रमाशंकर द्विवेदी अंचल (अम्बेडकर नगर), विजय शंकर मिश्र भास्कर, राज मिश्र व राज बहादुर द्विवेदी बंजर (जौनपुर) को साहित्य सेवा, डॉ इन्दु शेखर उपाध्याय को पर्यावरण संरक्षण, डॉ मंगला प्रसाद सिंह, सुभाष चन्द्र यादव परदेसी, डॉ सिकंदर लाल (प्रतापगढ), डॉ रुपा यादव, डॉ अब्दुल हमीद दार्शनिक (अमेठी), डॉ कल्पना (प्रतापगढ़), डॉ राकेश कुमार उपाध्याय (आजमगढ़), राम केवल निषाद शास्त्री, प्रतिष्ठा पाण्डेय व राम लाल गुप्त (जौनपुर) को शिक्षा सेवा, डॉ संजीव कुमार पाण्डेय को चिकित्सा सेवा तथा धर्मराज मौर्य, दीपेन्द्र मोहन सिंह (गोरखपुर) व सियाराम तिवारी को समाजसेवा क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए सम्मानित किया गया।
Previous articleजौनपुर : दिवंगत द्वय पूर्व मंत्रियों को सपाईयों ने अर्पित किया श्रद्धा-सुमन
Next articleजौनपुर : मोटर मैकेनिक ने फांसी लगाकर दी जान
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏