कार नाले में गिरने के चलते डूबकर हुई पांच लोगों की दर्दनाक मौत

कार नाले में गिरने के चलते डूबकर हुई पांच लोगों की दर्दनाक मौत

# झपकी लगने पर हुआ हादसा, चार मासूम बच्चों समेत एक महिला की हुई मौत

मऊ।
तहलका 24×7
               चालक के झपकी आने के चलते एक कार सड़क किनारे बनी पुलिया से टकराकर गहरे नाले में जा गिरी। हादसे में कार में सवार सात लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। उधर, हादसे की सूचना मिलने पर देर रात ही पुलिस अधीक्षक सुशील चंद्रभान घुले, दोहरीघाट एसओ मनोज सिंह के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और घायलों को दोहरीघाट सीएचसी पहुंचाया। यहां चिकित्सकों ने चार मासूम और एक महिला को मृत घोषित कर दिया। जबकि दो घायलों की गंभीर हालात देखते हुए प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल रेफर कर दिया। हादसा मऊ जिले में दोहरीघाट थाना क्षेत्र के बेलौरी-सोनबरसा के पास शनिवार की देर रात करीब एक बजे हुआ।

गोरखपुर जिले के चौरीचौरा थाना क्षेत्र के फुलवरिया गांव निवासी महेश (43) पुत्र पतलु अपनी पत्नी ममता (35), पुत्र मयंक (6) और दिव्यांश (8), पुत्री तानिया (13) और भयोहू दीपिका (30) पत्नी दिनेश और उसकी पुत्री माही (8) के साथ कार से शनिवार की रात मधुबन स्थित अपने रिश्तेदार के यहां जा रहे थे। दोहरीघाट थाना क्षेत्र से सात किमी दूर बेलौरी-सोनबरसा के पास पहुंचे थे कि तभी कार चला रहे महेश को झपकी आने से कार सड़क किनारे बनी पुलिया में फंसकर नाले में पलट गई।

उधर देर रात घायलों के चीखने चिल्लाने की सूचना पर लोगों ने इसकी सूचना दोहरीघाट एसओ मनोज सिंह को सूचना दी। एसओ से सूचना मिलते ही एसपी सुशील कुमार घुले भी मौके पर पहुंचे। गहरे नाले के पानी में गिरी कार से लोगों को बाहर निकालकर सभी को सीएचसी केंद्र दोहरीघाट लाया गया। जहां डॉक्टरों ने ममता, मयंक, दिव्यांश, तानिया और माही को मृत घोषित कर दिया। जबकि घायल महेश और उसकी भयोहू दीपिका को प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया।

हादसे के बाद पुलिस ने पांचों शवों को पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दिया। वहीं घटना की सूचना मिलने पर एडीएम के हरि सिंह रविवार की सुबह जिला अस्पताल पहुंचे और घायलों के बारे में जानकारी ली। मृतक घटना के समय मधुबन स्थित अपने रिश्तेदार के यहां जा रहे थे।

# चोट लगने से नहीं पानी में डूबने से हुई मौत

पुलिया से टकराने के बाद कार सीधे नाले में जा गिरी। पांच फीट से ज्यादा गहरे पानी भरे नाला में कार सीधे के बजाए उल्टा गिरी थी। इसके चलते कार के पिछली सीट पर सवार चारों मासूम बच्चों और महिला को निकलने का मौका नहीं मिला। जब तक राहत अभियान चलाकर इन पांचों को बाहर निकाला जाता, तब तक इन पांचों की मौत हो चुकी थी। इसकी पुष्टि दोहरीघाट सीएचसी प्रभारी डॉ. फैजान ने की। वहीं कार जब पुलिया से टकराई तो कार चला महेश और अगली सीट पर सवार दीपिका दरवाजा खुलने के चलते सड़क पर आ गिरे।

पुलिस अधीक्षक सुशील चंद्रभान घुले ने बताया कि घटना की सूचना मिलते ही वह पूरी टीम के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस कर्मियों ने रेस्क्यू कर घायलों को सीएचसी अस्पताल पहुंचाया। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। फुलवरिया गांव के लोगों के मुताबिक, दिनेश पुत्र पतरू आर्मी में कार्यरत हैं। इनका बड़ा भाई महेश कोइलरी में नौकरी करता था। सभी लोग छत्तीसगढ़ के जिला कोरिया के डोमनहील में रहते थे। गांव के लोगों ने बताया कि मुहर्रम में गांव में ताजिया रखने आ रहे थे। इसी बीच हादसा हो गया। ग्रामीणों ने बताया कि महेश हर साल परिवार के साथ गांव मे आकर मोहर्रम में ताजिया रखता था। हृदय विदारक घटना से गांव में मातम पसरा है लोग काफी दुखी हैं।
Previous articleटोक्यो ओलंपिक ! गोल्ड मेडल जीतने वाले नीरज चोपड़ा पर इनामों की बारिश
Next articleरुद्र की नगरी में गंगा का रौद्र रूप, चहुंओर पानी ही पानी
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏