कोरोना की दूसरी लहर में भाजपा के एक और विधायक का निधन

कोरोना की दूसरी लहर में भाजपा के एक और विधायक का निधन

# सलोन से विधायक/पूर्व मंत्री दल बहादुर कोरी का लखनऊ में चल रहा था इलाज

# यूपी के दो मंत्रियों की भी हो चुकी है कोरोना से मौत

लखनऊ।
विजय आनंद वर्मा
तहलका 24×7
                   उत्तर प्रदेश में कोरोना का कहर जारी है, इसकी चपेट में आकर भाजपा के एक और विधायक ने जान गंवा दी है। रायबरेली की सलोन विधानसभा सीट से भाजपा विधायक/पूर्व मंत्री दल बहादुर कोरी का आज निधन हो गया, उनका लखनऊ के अपोलो अस्पताल में इलाज चल रहा था। कोरोना की दूसरी लहर में भाजपा के अब तक चार विधायकों की मृत्यु हो चुकी है।

इससे पहले औरैया से भाजपा विधायक रमेश दिवाकर, लखनऊ पश्चिम से विधायक सुरेश श्रीवास्तव एवं बरेली के नवाबगंज से विधायक केसर सिंह गंगवार का कोरोना से निधन हो चुका है। आज दिवंगत विधायक दल बहादुर कोरी एक हफ्ते पहले संक्रमित हुए थे। उन्हे लखनऊ के अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया था, आज सुबह अचानक उनकी तबीयत बिगड़ गई। इलाज के दौरान ही उनका निधन हो गया, उनके निधन की खबर से सलोन विस क्षेत्र में गम का माहौल है।

डीह विकासखंड के पदनमपुर बिजौली गांव निवासी 62 वर्षीय विधायक दल बहादुर कोरी 1990 में राम मंदिर आंदोलन से जुड़े हुए थे, वह दो बार जेल भी गए थे। 1991 में वह चुनाव हार गए थे। दल बहादुर कोरी पहली बार 1996 में सलोन विधानसभा से विधायक बने और राजनाथ सिंह के मुख्यमंत्री काल में मंत्री बनाए गए। 2004 में दल बहादुर कोरी कांग्रेस में शामिल हो गए, लेकिन 2014 में उनका कांग्रेस से मोहभंग हो गया और घर वापसी की। इसके बाद 2017 में भाजपा ने उन्हे सलोन सीट से टिकट दिया। कोरोना की पहली लहर में पिछले साल दो मंत्री चेतन चौहान व वरुण रानी भी दिवंगत हो गए थे।

यूपी की 17वीं विधानसभा में अब तक एक दर्जन विधायकों की मृत्यु हो चुकी है। यूपी विधानसभा में अब 4 सीट रिक्त हैं लेकिन इन पर उपचुनाव करा पाना मुश्किल होगा। ऐसा इसलिए क्योंकि वर्तमान में कोरोना संक्रमण अभी काफी बढ़ा हुआ है। चूंकि अगले साल फरवरी में 18वीं विधानसभा के लिए आम चुनाव होना है, जिसमें 9 महीने ही बचे हैं। ऐसे में उपचुनाव के आसार काफी कम ही हैं। वैसे नियमानुसार सीट रिक्त होने के छह महीने में ही चुनाव कराने का नियम है। चुनाव कराने या न कराने का निर्णय चुनाव आयोग को ही करना है।
Previous articleजौनपुर : बाल रोग विशेषज्ञ ने दिखाई दरिया दिली, हास्पिटल में तोड़फोड़ करने वालों के मासूम की बचाई जान
Next articleबढ़ते कोरोना के चलते राजस्थान में संपूर्ण लाॅकडाउन, विवाह समारोहों पर भी रोक
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏