कोरोना महामारी के बीच एक और दर्दनाक हादसा, फिर लगी एक कोविड अस्पताल में आग

कोरोना महामारी के बीच एक और दर्दनाक हादसा, फिर लगी एक कोविड अस्पताल में आग

# दो नर्सों सहित 18 लोगों की दर्दनाक मौत, कई घायल, चार-चार लाख की मदद की घोषणा

# बचाए गए मरीजों को किया गया दूसरे अस्पतालों में शिफ्ट

लखनऊ/अहमदाबाद।
विजय आनंद वर्मा
तहलका 24×7
             कोरोना महामारी के बीच गुजरात के भरूच में एक दर्दनाक हादसे ने देश को हिला कर रख दिया। भरूच के कोविड-19 अस्पताल में देर रात लगी आग से 18 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। मृतकों में दो नर्सें भी शामिल हैं। पेटल वेलफेयर कोविड अस्पताल में आग लगने का कारण शुरुआती जांच में शार्ट सर्किट बताया जा रहा है। भरूच के पुलिस अधीक्षक राजेन्द्र सिंह चुडास्मा के अनुसार ‘शॉर्ट सर्किट होने की वजह से पटेल वेलफेयर कोविड अस्पताल के आईसीयू में रात 12.30 बजे आग लग गई। आग को बुझा लिया गया है। इस आग में 18 लोगों के मारे जाने की खबर है। घायल मरीजों को दूसरे अस्पताल में शिफ्ट किया गया है।

tahalka

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने इस हादसे पर दुख जताया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार प्रत्येक पीड़ित परिवार को चार-चार लाख रुपए की आर्थिक मदद देगी। अस्पताल में करीब 70 मरीज भर्ती थे। चार मंजिला इस इस्पताल में 24 मरीजों को आईसीयू में रखा गया था। इस घटना में कई मरीज घायल भी हुए हैं। घटना की जानकारी मिलते ही फायर ब्रिगेड की कई गाड़ियां आग बुझाने पहुंच गईं। पटेल वेलफेयर अस्पताल की पहली मंजिल में कोरोना मरीजों के लिए कोविड केयर सेंटर बनाया गया था।

tahalka

इस हादसे में अस्पताल की दो नर्सों ने भी अपनी जान गंवा दी। करीब 50 लोगों को रेस्क्यू किया गया और उन्हें दूसरे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।‌ फायर ऑफिसर शैलेश संसिया ने बताया कि अस्पताल की पहली मंजिल पर कोविड वार्ड बनाया गया था। एक घंटे के भीतर आग पर काबू पा लिया गया। साथ ही, फायर फाइटर्स और स्थानीय लोगों की मदद से करीब 50 लोगों को बचा लिया गया।
May 01, 2021

Previous articleजौनपुर : ई-स्टांपिग से उपभोक्ताओं को बैंकों में कतार से मिलेगी निजात..
Next articleजिले के एसडीएम की कोरोना से हुई मौत
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏