कोरोना से दिवंगत पत्रकारों के परिजनों को दी गई 10-10 लाख की सहायता राशि रुपए

कोरोना से दिवंगत पत्रकारों के परिजनों को दी गई 10-10 लाख की सहायता राशि रुपए

# योगी आदित्यनाथ ने कहा- पत्रकारों के साथ हम सब खड़ें हैं, मदद का सिलसिला आगे भी रहेगा जारी

# वरिष्ठ पत्रकार रजत शर्मा ने कहा कि ये एक भावुक क्षण है, मुख्यमंत्री जी का आभार

लखनऊ।
विजय आनंद वर्मा
तहलका 24×7
                     कोरोना से दिवंगत पत्रकारों के परिजनों को यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज 10-10 लाख रुपए के चेक प्रदान किए। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि जिन पत्रकारों ने अपना जीवन कोरोना काल में गंवाया है उन सभी को मेरी संवेदना के रूप में ये दस लाख रुपए एक भावनात्मक श्रद्धांजलि है। भावनाओं को व्यक्त करने के लिए आगे भी पत्रकारों के साथ सहयोग जारी रहेगा पत्रकारों के साथ हम सब खड़े हैं।
इस अवसर पर इंडिया टीवी के एडीटर इन चीफ रजत शर्मा ने कहा कि ये एक भावुक क्षण है, मैं शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं। मुख्यमंत्री जी का आभार प्रकट करता हूं, उन्होने संबल प्रदान किया और इस कार्यक्रम में मुझे बुलाया। उन्होने कहा कि जीवन के कुछ पल ऐसे होते हैं जिनमें शब्द कम पड़ जाते हैं, जब लाॅकडाउन लगा तो हमारे पत्रकार साथी सड़क पर थे। पत्रकार लोगों को जागरूक करने का प्रयास कर रहे थे और लोगों के बीच जाकर मुश्किल काम कर रहे थे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना से संपूर्ण विश्व प्रभावित हुआ। दुनिया की बड़ी बड़ी ताकतें कोरोना से पस्त हुई हैं।हमने सभी को सुरक्षित घर पहुंचाने का काम किया। पहली लहर को हमने नियंत्रित करने के साथ ही वैक्सिनेशन शुरू कर दिया था। हमने वैक्सिनेशन के वेस्टेज को पूरी तरह रोका, हमने संकट और चुनौती के बीच से रास्ता निकाला।
हम संवाद के माध्यम से हर समस्या का समाधान निकालेंगे। मीडिया का भी लक्ष्य वही है तभी आम आदमी सोचेगा कि कोई हमारी भी चिंता कर रहा है। उन्होने कहा कि हमने मीडिया से संवाद बनाया बिना किसी मतभेद के सब के साथ खड़े होने का। हमने रजत शर्मा जी के माध्यम से सुझाव और सहयोग प्राप्त किया, मैं सभी पीड़ित परिवारों के प्रति शोक संवेदना व्यक्त करता हूं‌।
मुख्यमंत्री ने कहा कि मीडिया ने मुश्किल समय में भी समाज को दिशा दी और लोगों में जागरूकता फैलाई। अपनी जान की परवाह किए बगैर जमीन से जुड़ी सच्ची खबरों के माध्यम से हमें कार्य करने में मदद की। मीडिया के सहयोग के लिए हम हकीकत जान सके तभी आज उत्तर प्रदेश मुश्किल समय के दौर से उबर रहा है।
Previous articleजौनपुर : संचारी रोग नियंत्रण अभियान के तहत पोस्टर प्रतियोगिता सम्पन्न
Next articleजौनपुर : नेवढ़िया पुलिस ने किया वांछित अभियुक्त को गिरफ्तार
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏