गज़ब ! पैंट-शर्ट पहनकर खेत में उतरे डीएम, लोग हुए हतप्रभ

गज़ब ! पैंट-शर्ट पहनकर खेत में उतरे डीएम, लोग हुए हतप्रभ

# अफसरों के साथ की धान की रोपाई, नई पीढ़ी को दी नसीहत

सोनभद्र।
तहलका 24×7
                किसानों को आधुनिक खेती का तरीका बताने के लिए सोनभद्र के डीएम अभिषेक सिंह मंगलवार को खुद किसान बन गए। कृषि विभाग के मगुंराही फार्म हाउस में उन्होंने धान की रोपाई की। पैंट-शर्ट पहने डीएम को धान रोपते देख जहां लोग हतप्रभ थे, वहीं किसान-मजदूर उत्साह से लबरेज दिखे। डीएम को देखकर उनके साथ आए अन्य अफसरों ने भी धान की रोपाई में हाथ बंटाया।
डीएम अभिषेक सिंह मंगलवार को कृषि विज्ञान केंद्र की स्थापना के लिए कृषि विभाग के मगुंराही फार्म हाउस का निरीक्षण करने पहुंचे थे। वहां धान की तैयार नर्सरी के बारे में जानकारी ली। जब पता चला कि धान की रोपाई के लिए खेत तैयार है, तब डीएम कीचड़-मिट्टी की परवाह किए बिना मुख्य नहर से पैदल चलकर खेत पहुंचे।
डीएम ने खेत के बाहर जूते उतारे और सीधे खेत में पहुंच गए। डीएम ने सीआर-1 व सीआर-4 धान की प्रजाति को रोपा। डीएम को धान रोपते देख साथ आए जिला कृषि अधिकारी पीयूष राय सहित अन्य अफसर भी रोपाई में जुट गए। डीएम ने सांकेतिक रूप से धान रोपा। किसानों से चर्चा करते हुए वैज्ञानिक खेती के लिए प्रेरित किया। कहा कि धान की रोपाई समय से होने पर पैदावार भी बेहतर होती है।डीएम अभिषेक सिंह ने कहा कि अपने खेतों के भौगौलिक बनावट के अनुरूप खेती करें। जहां पर पर्याप्त पानी मिल सकता है, वहां पर लंबे समय वाली धान की खेती करें। इसके अलावा जहां पर पानी सामान्य रूप से मिलता है, वहां कम दिनों वाली प्रजाति लगाएं। 
डीएम अभिषेक सिंह ने कहा कि जिस खेत में पानी कम रुकता है, वहां दलहन व तिलहन की खेती उपयुक्त होगी। कम लागत में अधिक उत्पादकता की खेती पर विशेष ध्यान दिया जाय। खेती के साथ बागवानी और साग-भाजी की खेती पर भी ध्यान दें। डीएम ने जिले में जल्द कृषि विज्ञान केंद्र की स्थापना की बात कही। इसके लिए कृषि विभाग के मगुंराही फार्म हाउस में जगह चिह्नित कर प्रस्ताव भेजा जा रहा है। प्रस्ताव मंजूर होते ही कृषि विज्ञान केंद्र की स्थापना की कार्रवाई आगे बढ़ेगी। डीएम ने नई पीढ़ी के युवाओं को भी आधुनिक खेती की ओर बढ़ने की नसीहत दी।  
Previous articleजौनपुर : अलग-अलग स्थानों पर हुई मारपीट मे आधा दर्जन घायल
Next articleअयोध्या, काशी और मथुरा की तर्ज पर होगा विंध्यक्षेत्र का विकास, पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏