गाजीपुर : तटवर्ती इलाकों में घुसा गंगा का पानी

गाजीपुर : तटवर्ती इलाकों में घुसा गंगा का पानी

# पुल का मार्ग धंसने से टूटा कई गांवों का सम्पर्क

गाजीपुर।
तहलका 24×7
              गंगा का जलस्तर बढ़ने से गाजीपुर में पुल का सम्पर्क मार्ग धंस गया। इससे कई गांवों का संपर्क टूट गया है। रेवतीपुर क्षेत्र में गंगा का पानी घुसने से हसनपुरा व अठहठा के बीच पुलिया का सम्पर्क मार्ग धंस गया है। इससे स्थानीय लोगों का आवागमन बाधित है। शुक्रवार सुबह गंगा के जलस्तर में बढ़ोतरी से रेवतीपुर क्षेत्र के निचले इलाकों में पानी घुस गया।
ग्रामीणों ने बताया कि सम्पर्क मार्ग की मरम्मत के लिए कई बार प्रशासन को सूचित किया गया लेकिन किसी ने ध्यान नहीं दिया। इसी वजह से पुल से संपर्क टूट गया। हसनपुरा क्षेत्र के लोगों का कहना है कि तहसील पर जाने के लिए यही संपर्क मार्ग था। अब टूट जाने से हम लोगों को तहसील आने-जाने के लिए 20 किलोमीटर अधिक घूमकर जाना पड़ेगा। ग्रामीणों का कहना है कि साल 2020 में इस सड़क को लेकर जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायत भी की गई थी। लेकिन, शिकायत का संज्ञान नहीं लिया गया। कहा, अगर आवागमन की सुचारू व्यवस्था नहीं की गई तो धरना-प्रदर्शन करने के लिए बाध्य होंगे। स्थानीय ऋषिकेश राय, जवाहीर राम, विजेंदर राम, बबन राम, संतोष राय, राजेंद्र गुप्ता और संतोष चौरसिया ने सड़क की मरम्मत की मांग की है।
वहीं, रास्ता बंद हो जाने की वजह से बीरउपुर, अठाहठा, हसनपुरा और नगदिलपुर के लोगों को आने जाने में समस्या हो रही है। पुल के उस पार खेती होने से किसानों को समस्या हो रही है। पशुओं के चारा की व्यवस्था में समस्या आ रही है। सड़क धंसने की जानकारी मिलते ही अवर अभियंता पीडब्ल्यूडी शालिग्राम मौके पर पहुंचे और निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि यह पुल दशकों पहले बना था। पुल को जोड़ने वाली सड़क का सम्पर्क हट जाने की वजह से धंस गया है। इस सड़क को लेकर शासन को रिपोर्ट बनाकर तुरंत भेजा जाएगा। शासन का निर्देश आते ही तुरंत काम चालू कर दिया जाएगा। 
Previous articleकेंद्र के सकारात्मक कदम पर संसद के अंदर और बाहर है हमारा समर्थन- मायावती
Next articleवाराणसी : महाकवि जयशंकर प्रसाद के घर की डगर ऊबड़-खाबड़
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏