गुरुग्राम हत्याकांड में चौंकाने वाला कबूलनामा, सिसकती आवाज सुन लौटा था

गुरुग्राम हत्याकांड में चौंकाने वाला कबूलनामा, सिसकती आवाज सुन लौटा था

# तड़पती बहू को देख दोबारा किए थे पांच वार, खंजर लेकर पहुंचा था थाने

गुरुग्राम।
तहलका 24×7
             गुरुग्राम में मंगलवार को दिल दहला देने वाली घटना हुई थी यहां रिटायर्ड फौजी ने अपनी बहू और किराएदार के बीच अवैध संबंधों के शक में चार लोगों की बेरहमी से हत्या कर दी। चार लोगों की हत्या के बाद रिटायर्ड फौजी बहुत ही आराम से बाथरूम में जाकर नहाया और कपड़े बदले। रोजाना की तरह वह साढ़े चार बजे पार्क पहुंचा और वहां पर गाय को दो रोटी भी खिलाईं। वापस आकर पत्नी को कमरे में बंद कर जब थाने जा रहा था उस दौरान उसके कानों में बहू के सिसकने की आवाज सुनाई दी।
                 खंजर लेकर थाने जाते समय सीसीटीवी कैमरे के कैद हुआ रिटायर्ड फौजी
फिर से पुत्रवधू के पास पहुंचा और उस पर पांच वार किए। उसी के बाद खंजर हाथ में लटकता हुआ लेकर थाने पहुंच गया। घर से लेकर थाने तक जाते समय तीन स्थानों पर रिटायर्ड फौजी पुलिस को सीसीटीवी कैमरो में कैद मिला है। जिन कपड़ों को पहन कर उसने वारदात को अंजाम दिया उन कपड़ों को पुलिस ने उसके बाथरूम से बरामद कर लिए हैं। जो कपड़े पहनकर वह थाने पहुंचा था उन पर भी खून के छींटे मिले हैं। जांच करने पर पुलिस को पता चला कि आरोपी के दिमाग में पुत्रवधू और किराएदार कृष्णकांत के खिलाफ काफी गुस्सा भरा हुआ था।

पुलिस को छानबीन के दौरान पता चला कि राव राय सिंह बहुत ही शातिर किस्म का है। वह अपनी पत्नी को पूरे मामले से बचाने का प्रयास कर रहा था। उसने पुलिस को बताया था कि जब वारदात को अंजाम दे रहा था उसकी पत्नी विमलेश व पोती को उसने कमरे में बंद कर दिया था। जब पुलिस ने उसकी पत्नी से अलग से बात की तो उसने कहानी कुछ और बताई । महिला ने चार लोगों की नृशंस हत्या में पति का साथ देने की बात कबूल कर ली है। उसी के बयान के आधार पर पुलिस ने फौजी की पत्नी विमलेश की गिरफ्तारी की है।

65 वर्षीय सेवानिवृत्त फौजी राव राय सिंह ने पुत्रवधू सुनीता यादव (35), किराएदार कृष्ण तिवारी (40), उसकी पत्नी अनामिका तिवारी (34) और बेटी सुरभि (7) की धारदार हथियार से हमला कर हत्या कर दी थी। हमले में किराएदार की तीन साल की बेटी विधि घायल है जिसका सफदरजंग अस्पताल दिल्ली में इलाज चल रहा है। हत्या के बाद रिटायर्ड फौजी के चेहरे पर कोई शिकन नहीं है। उसने जो कुछ किया उसका जरा भी अफसोस नहीं है।

बहरहाल, राजेन्द्रापार्क में चार लोगों की नृशंस हत्या का खुलासा पुलिस ने कर दिया है। पुलिस के अनुसार इन हत्याओं का कारण किराएदार कृष्णकांत तिवारी और फौजी की पुत्रवधू सुनीता के बीच अवैध संबंध रहे हैं। इस मामले में रिटायर्ड फौजी राव राय सिंह और उसकी पत्नी विमलेश को दोषी मानकर गिरफ्तार कर लिया गया है। बुधवार को दोनों को अदालत में पेश किया गया। इनमें से विमलेश को जेल भेज दिया गया है जबकि फौजी दो दिन के रिमांड पर पुलिस हिरासत में है जिससे घटना के बारे में अन्य जानकारी जुटाने का पुलिस प्रयास कर रही है।
Previous articleमहाराष्ट्र : मुंबई के एक स्कूल के 22 बच्चे कोरोना संक्रमित, बीएमसी ने सील किया परिसर
Next articleमऊ : असलहे की अवैध फैक्ट्री पर छापेमारी में तीन महिलाओं सहित नौ गिरफ्तार
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏