छुट्टी पर घर आए एयरफोर्स के जवान की आंख में गोली मारकर हत्या..

छुट्टी पर घर आए एयरफोर्स के जवान की आंख में गोली मारकर हत्या..

# कल रात से लापता जवान का शव सड़क पर पड़ा मिला:

# पुलिस सूचना के बाद भी देर से पहुंचीं, ग्रामीणों में आक्रोश

लखनऊ/उन्नाव।
विजय आनंद वर्मा
तहलका 24×7
                 गंगाघाट कोतवाली क्षेत्र के बसधना गांव में एयरफोर्स जवान की गोली मारकर हत्या कर दी गई। मंगलवार की सुबह ग्रामीणों ने गांव के बाहर उसका शव पड़ा देखा तो सनसनी फैल गई। घटनास्थल पर एक खाली कारतूस पड़ा मिला है। कहा जा रहा है कि रात में किसी अंजान व्यक्ति की मोबाइल फोन पर कॉल आने के बाद एयरफोर्स कर्मी घर से निकला था। शुक्लागंज के प्रेमनगर निवासी प्रतीक सिंह (28 वर्षीय) जम्मू में एयरफोर्स में एयरमैन के पद पर तैनात थे। वह 11 जून को छुट्टी लेकर जम्मू से घर आए थे।

सोमवार की रात करीब आठ बजे प्रतीक के मोबाइल फोन पर किसी की कॉल आई थी और इसके बाद वह कुछ देर में वापस आने की बात कहकर घर से निकले थे। देर रात तक घर नहीं पहुंचे तो स्वजनों ने तलाश की लेकिन कुछ पता नहीं चल सका, इसके बाद घरवालों ने पुलिस को सूचना दी थी। मंगलवार की सुबह ग्रामीणों ने बसधना गांव के बाहर खेत में शव पड़ा देखा तो सनसनी फैल गई। सेना के जवान की काफी निर्ममता पूर्वक ढंग से दाहिनी आंख में गोली मारकर हत्या की गई है। शव के पास ही 315 बोर कारतूस का खोखा पड़ा मिला है। गोली किसने मारी और क्यों मारी इस बात का पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है।
                   जवान प्रतीक सिंह (फाइल फोटो)
घटना से इलाके में हड़कंप मच गया है। ग्रामीणों ने पास की हाजीपुर चौकी पुलिस को सूचना दी, कई घंटे तक पुलिसकर्मी नहीं पहुंचे जिससे ग्रामीण आक्रोशित हो गए। माना जा रहा है कि हमलावर ने कनपटी में सटाकर गोली मारने की कोशिश की, प्रतीक ने अपने को बचाने की कोशिश की होगी जिस पर गोली आंख में लगी। हत्या की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। एसपी उन्नाव आनन्द कुलकर्णी, सीओ (सिटी) कृपा शंकर, डॉग स्क्वायड व फिंगरप्रिंट एक्सपर्ट की टीम ने मौके की जांच की।
               मौके पर छानबीन करते हुए पुलिस अधिकारी
मृतक के भाई प्रभात ने भाई के सहकर्मी पर हत्या का अंदेशा जताया है। एसपी आनन्द कुलकर्णी के अनुसार प्रतीक छुट्टी में घर में आए थे, इन्ही का एक दोस्त है जिसका नाम विनय है, यह इनको कल अपने साथ कहीं लेकर गया था। एसपी ने बताया कि अभी तक जो चीजें निकल कर सामने आई है, उसमें इनका कोई पारिवारिक विवाद था जिसमें कुछ संबंधों की बात आ रही है। अभियुक्त को जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा, कई टीमें लगाई गई हैं।
Previous articleजौनपुर : चार दिन बाद भी गायब किशोरी का नहीं लगा सुराग
Next articleजौनपुर : जेसीआई चेतना ने अग्निशमन कर्मियों को किया सम्मानित
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏