जज से शादी के लिए “घूसखोर” एसडीएम को मिली हाईकोर्ट से जमानत

जज से शादी के लिए “घूसखोर” एसडीएम को मिली हाईकोर्ट से जमानत

# 16 फरवरी को शादी, 21 फरवरी को करना होगा सरेंडर, शादी के लिए होटल पहले ही बुक हो चुका

# 13 जनवरी को 5 लाख की रिश्वत लेते हुए पकड़ा गया था पिंकी मीणा को

लखनऊ/जयपुर।
विजय आनंद वर्मा
तहलका 24×7
              हाईवे बना रही कंपनी से 10 लाख रुपए‌ रिश्वत मांगने के आरोप में 29 दिन से जेल में बंद एसडीएम पिंकी मीणा को अपनी शादी के लिए अंतरिम जमानत मिल गई, राजस्थान हाईकोर्ट की जयपुर बेंच के जस्टिस इंद्रजीत सिंह ने 10 दिन की सशर्त जमानत दी है। राजस्थान न्यायिक सेवा में चयनित हुए अधिकारी के साथ 16 फरवरी को एसडीएम ब्याह रचाएंगी, उन्हे 21 फरवरी को सरेंडर करना होगा। मामले की अगली सुनवाई 22 फरवरी को होगी।

                                    29 दिनों से जेल में बंद एसडीएम पिंकी मीणा

बताया जा रहा है कि शादी के लिए दौसा जिले के जटवाड़ा में एक आलीशान होटल पहले ही बुक हो चुका था, इसी बीच वह रिश्वत लेते ट्रेप कर लीं गईं। 29 दिन से जेल में बंद एसडीएम मीणा ने जनवरी 2021 में निचली अदालत में जमानत के लिए प्रयास किए थे, तब याचिका ठुकरा दी गई थी। सरकारी वकील ने जमानत देने का विरोध कर कहा था कि यह बाहर आईं तो जांच प्रभावित हो सकती है, हालांकि अब हाईकोर्ट से पिंकी मीणा को शादी के छह दिन पहले जमानत मिल गई है।

एसीबी ने 13 जनवरी को दौसा में हाइवे निर्माण करने वाली कंपनी से 5 लाख की रिश्वत लेते हुए बांदीकुई की एसडीएम पिंकी मीणा को गिरफ्तार किया था। आरोप है कि भारतमाला परियोजना (दिल्ली मुंबई एक्सप्रेस हाइवे)l कंपनी के अधिकारियों से रिश्वत मांगी गई थी। पिंकी मीणा जयपुर जिले में चौमूं के चिथवाड़ी गांव की रहने वाली हैं। सरकारी स्कूल से पढ़ाई पूरी करने वाली पिंकी मीणा के पिता किसान हैं। पिंकी पढऩे में काफी होशियार रहीं। पिंकी मीणा ने पहली बार में ही आरएएस की परीक्षा क्लीयर कर ली थी, लेकिन 21 साल की नहीं होने के कारण इंटरव्यू नहीं दे पाई थीं। इसके बाद 2016 में फिर से मेरिट के साथ परीक्षा क्लीयर की, जिसके बाद उन्हे पहली पोस्टिंग टोंक जिले में मिली थी।
Feb 11, 2021

Previous articleजौनपुर : अपहरण के मुकदमे में वांछित अभियुक्त को मीरगंज पुलिस ने किया गिरफ्तार
Next articleजौनपुर : पं. दीनदयाल उपाध्याय जी की पुण्यतिथि को भाजपाइयों ने मनाया समर्पण दिवस के रूप में
तहलका24x7 की मुहिम..."सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏