जरा हट के ! हेडिंग कुछ कहता है और मतलब कुछ और ही निकलता है…

जरा हट के ! हेडिंग कुछ कहता है और मतलब कुछ और ही निकलता है…

स्पेशल डेस्क।
तहलका 24×7
               हिंदी पत्रकारिता दिवस की सुधी पाठकों को असीम बधाई.. आज के समय में खबरों ने एक नया रंग ले लिया है और तरह तरह की खबरें सिर्फ ज़्यादा पब्लिसिटी दिलाने के लिए छपती व दिखाई जाती है कि कोई भी पढ़े तो हैरान हो जाये, अच्छी न्यूज़ की जगह अब सर्कुलेशन और टीआरपी पर ही ध्यान दिया जाता है जिसमें न्यूज़ चैनल हो या अखबार सभी में होड़ मची हुई है। खबर को इस कदर घुमा दिया जाता है की वो एक पूरा एपिसोड बन जाता है, अब इंटरनेट को ही ले ले यहाँ ऐसे विज्ञापन और खबरें मिल जाती है, जिसको पढ़ कर और देखकर इंसान बिना हंसे नहीं रह सकता है, आज हम आपके लिए ऐसे ही कुछ खबरों का संकलन लेकर आये हैं जिसमें हर हेडिंग कुछ-कुछ कहता है मतलब कुछ और ही निकलता है…

# इंसान को कई कर्मो की सजा इस संसार में ही भुगतनी है…

# कहीं आप भी तो इस दर्द से नहीं गुज़रे है?

# क्या सच में प्यार इतना अन्धा होता है ?

# ये समस्या आम हो गयी है..

# अखबार में बस ये ही छापना बाकी रह गया था…

# घोर कल युग आ गया है..

# कहीं चटनी मत मांगना बस..

# इस खबर को सुनकर आप भी कांप जाओगे..

# प्यार का पंचनामा.. 

# 36 घंटे…

# भाई पाप नहीं पॉप होता है..

# लिखते समय ध्यान तो इस राइटर का भी गया होगा.. 

# अभिनेत्री..

# पप्पी का खेल..

सुधी पाठकों,
              जरा हटके आपको कैसा लगा कृपया इस कलेक्शन पर अपने कमेंट्स अवश्य दें। “तहलका 24×7 टीम” 
Previous articleसराहनीय ! कोविड के कारण माता-पिता को गंवाने वाले बच्चों की पालनहार बनी योगी सरकार
Next articleहिन्दी पत्रकारिता दिवस पर सुधी पाठकों को “तहलका 24×7” की ओर से असीम बधाई..
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏