जौनपुर : अधिवक्ता के गिरफ्तारी की मांग को लेकर तहसील कर्मियों का धरना

जौनपुर : अधिवक्ता के गिरफ्तारी की मांग को लेकर तहसील कर्मियों का धरना

शाहगंज।
रवि शंकर वर्मा
तहलका 24×7
               तहसीलदार न्यायालय में बुधवार को एक पत्रावली को लेकर तहसील अधिवक्ता सुभाष चंद यादव व तहसील कर्मी राकेश पासवान के बीच विवाद होने का आरोप लगा था। कोतवाली पुलिस ने राकेश पासवान की तहरीर पर अधिवक्ता के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत कर जांच में जुटी है। अब अधिवक्ता की गिरफ्तारी की मांग को लेकर शुक्रवार को तहसील परिसर में कर्मचारियों धरना प्रदर्शन करते हुए अधिवक्ता की गिरफ्तारी की मांग पर अड़े रहे।

बताया जाता है कि बुधवार को तहसील अधिवक्ता सुभाष यादव तहसीलदार न्यायालय में पहुंचे थे। जो एक विचाराधीन मुकदमे की फाइल देखने को लेकर वहां मौजूद कर्मचारियों से कहासुनी हो गई। मौके पर मौजूद अन्य कर्मचारियों से भी उनकी कहा-सुनी हुई। इस बात को लेकर दोनों पक्षों में काफी विवाद हुआ। गुरुवार को सभी कर्मचारी आक्रोशित हो उठे। सभी कर्मचारी तहसीलदार अभिषेक राय और नायब तहसीलदार अमित सिंह के साथ कोतवाली पहुंचे।
आरोपी अधिवक्ता सुभाष चंद यादव के खिलाफ अनुसेवक राकेश पासवान ने फाइल फाड़ने और जाति सूचक शब्दों का प्रयोग करने आदि का आरोप लगाते हुए पुलिस को तहरीर दी। पुलिस ने राकेश पासवान की तहरीर पर संबंधित धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर जांच कर रही है। शुक्रवार को अधिवक्ता सुभाष चंद्र यादव की गिरफ्तारी को मांग को लेकर तहसील कर्मियों ने कार्य बहिष्कार करते हुए परिसर में धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया। तहसील कर्मियों ने कहा कि जब तक अधिवक्ता की गिरफ्तारी नहीं होती तब तक धरना प्रदर्शन जारी रहेगा।
Previous articleजौनपुर : विद्युत विभाग की बकाया वसूली टीम ने वसूले पांच लाख
Next articleजौनपुर : अधिवक्ता ने फांसी लगाकर की खुदकुशी, मौके पर मिला सुसाइड नोट
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏