जौनपुर : अधिवक्ता व तहसील कर्मी में विवाद, पुलिस मामले की जांच में जुटी

जौनपुर : अधिवक्ता व तहसील कर्मी में विवाद, पुलिस मामले की जांच में जुटी

शाहगंज।
रवि शंकर वर्मा
तहलकाय 24×7
                  तहसीलदार न्यायालय कक्ष में बुधवार की शाम एक पत्रावली देखने पहुंचे अधिवक्ता का वहां पर मौजूद कर्मचारियों से विवाद हो गया। जिसके चलते दोनों पक्षों में कहासुनी और आरोप-प्रत्यारोप के बाद मामला शांत हुआ। गुरुवार को तहसील खुली तो तहसील के कर्मचारी घटना को लेकर आक्रोशित हो उठे। एकजुट होकर तहसील कर्मी कोतवाली पहुंचे। पुलिस को तहरीर देते हुए मुकदमा दर्ज करने की मांग की। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

बुधवार की शाम करीब चार बजे तहसील के अधिवक्ता सुभाष यादव तहसीलदार न्यायालय में पहुंचे और एक विचाराधीन मुकदमे की फाइल को लेकर वहां पर मौजूद कर्मचारियों से उनकी कहासुनी होने लगी। इस बात को लेकर दोनों पक्षों की ओर से काफी विवाद और आरोप-प्रत्यारोप हुआ। अगले दिन गुरुवार की सुबह जब तहसील खुली तो तहसील के कर्मचारी लेखपाल व संग्रह अमीन आदि को घटना के बारे में जानकारी हुई। सभी घटना पर आक्रोश जताते हुए एकजुट हो गए।
कर्मचारी कोतवाली पहुंचे। मामले की जानकारी होने पर तहसीलदार अभिषेक राय, नायब तहसीलदार अमित सिंह आदि अधिकारी भी पहुंच गए। घटना को लेकर अनुसेवक राकेश पासवान ने मुकदमें की फाइल फाड़ने, जातिसूचक शब्द का इस्तेमाल करने एंव मारपीट करने का आरोप लगाते हुए तहरीर दी। पीड़ित कर्मचारी ने अधिवक्ता के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की मांग की है। पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है। घटना से आक्रोशित कर्मचारियों के तहसील कार्यालयों में तालाबंदी कर विरोध जताया।

मामले में अधिवक्ता समिति के अध्यक्ष राजदेव यादव ने बताया कि अधिवक्ता से एक प्राइवेट कर्मचारी से कहासुनी की जानकारी है। लेकिन तहसीलदार ने मामले को तूल देते हुए सरकारी कर्मचारी से फर्जी आरोप लगाकर मुकदमा दर्ज कराने का प्रयास किया गया। तहसीलदार अभिषेक राय से बात करने का प्रयास किया लेकिन उनका फोन नहीं उठा। उप जिलाधिकारी राजेश कुमार वर्मा ने बताया कि बुधवार को विवाद हुआ था। जिसमें पीड़ित कर्मचारी आज तहरीर देने के लिए कोतवाली गए थे।
Previous articleजौनपुर : संचारी रोग अभियान के तहत सुअर पालकों को किया गया जागरुक
Next articleजौनपुर : सामाजिक कार्यकर्ता मिर्ज़ा हामिद ने थामा सपा का दामन
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏