24.1 C
Delhi
Thursday, April 18, 2024

जौनपुर : आजादी अमृत महोत्सव के अंतर्गत सल्तनत बहादुर पीजी कॉलेज ने निकाली रैली

जौनपुर : आजादी अमृत महोत्सव के अंतर्गत सल्तनत बहादुर पीजी कॉलेज ने निकाली रैली

बदलापुर।
प्रियंका श्रीवास्तव
तहलका 24×7
                    सल्तनत बहादुर पीजी कॉलेज के राष्ट्रीय सेवा योजना की पांचों इकाइयों के संयुक्त तत्वाधान में 12 मार्च को दांडी यात्रा के अवसर पर आजादी अमृत महोत्सव के अंतर्गत एक रैली स्वयं सेवकों व स्वयंसेविकों द्वारा निकाली गई। रैली के उपरांत महाविद्यालय परिसर में एक संगोष्ठी का आयोजन किया गया। रैली को महाविद्यालय के प्रबंधक विनोद कुमार सिंह एडवोकेट द्वारा हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। रैली बदलापुर कस्बे के विभिन्न मार्गो से होते हुए महाविद्यालय परिसर में आकर समाप्त हो गई।

तत्पश्चात महाविद्यालय परिसर में आजादी अमृत महोत्सव पर एक संगोष्ठी का आयोजन किया गया जिसमें मुख्य अतिथि महाविद्यालय के प्रबंधक विनोद कुमार सिंह, विशिष्ट अतिथि के रूप में महाविद्यालय के असिस्टेंट प्रोफेसर करम चंद यादव रहे। कर्म चंद यादव ने अपने संबोधन में कहा कि आजादी के लिए बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ी है उन्हीं त्याग और बलिदान की गाथा हैं दांडी मार्च… महात्मा गांधी ने दांडी मार्च की शुरुआत 12 मार्च को किया था और 6 अप्रैल को दांडी में समाप्त हुई वहां पर उन्होंने नमक कानून को तोड़ा।

मुख्य अतिथि महाविद्यालय के प्रबंधक ने छात्र/छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि आप सभी बहुत ही सौभाग्यशाली हैं जिन्होंने खुली हवा में सांस लिया लेकिन आपको पता होना चाहिए कि इस स्वतंत्रता के पीछे किन महापुरुषों ने अपने बलिदान दिए। पूरा विश्व आश्चर्यचकित हो गया था कि एक हाड़ मांस का पुतला जिसका नाम महात्मा गांधी है जिन्होंने अहिंसा का रास्ता अपनाते हुए अंग्रेजों के विरुद्ध एक लड़ाई शुरू की जिसमें उन्होंने जीत भी हासिल किया। दांडी मार्च से प्रारंभ होने वाला आजादी के अमृत महोत्सव ऐसे समय में प्रारंभ किया गया जब हम 15 अगस्त 2021 को स्वतंत्र के 75 वें वर्ष में प्रवेश कर रहे हैं और सरकार के द्वारा इसे वर्ष भर मनाने की तैयारी चल रही है।

कार्यक्रम का संचालक डॉ राम मोहन अस्थाना, वरिष्ठ कार्यक्रम अधिकारी, राष्ट्रीय सेवा योजना संबोधित करते हुए कहा कि आज बड़े हर्ष का विषय है कि हम लोग आजादी के जश्न मनाने की तैयारी कर रहे हैं जिसके पीछे लाखों भारतीयों का बलिदान और त्याग है हम सभी को अपने इतिहास से सीखने की आवश्यकता है राष्ट्रीय एकता और अखंडता को बनाते हुए हम अपनी आजादी को छोड़ना रख सकते हैं इसके लिए आवश्यक है कि हम हम सभी महापुरुषों की वादियों एवं आदर्शों से सीख ले।

कार्यक्रम में कार्यक्रम अधिकारी डॉ महेंद्र सिंह, डॉ मुमताज अंसारी, डॉ पवन सिंह, जोरावर सिंह रहे। आभार प्रदर्शन डॉ मुमताज अंसारी ने व्यक्त किया। स्वागत गीत रिया तिवारी ने प्रस्तुत किया। कार्यक्रम में उपस्थित छात्र विनय कुमार, अनुराग पाल, प्रियांशु, अभिषेक, आदित्य, जूही, श्वेता, महिमा, मोनी, काजल आदि उपस्थित रहीं।
Mar 12, 2021

तहलका संवाद के लिए नीचे क्लिक करे ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓

लाईव विजिटर्स

37020289
Total Visitors
236
Live visitors
Loading poll ...

Must Read

Tahalka24x7
Tahalka24x7
तहलका24x7 की मुहिम..."सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... ?

बीएसए के अनुमोदन पर प्रधानाध्यापक का निलंबन तय 

बीएसए के अनुमोदन पर प्रधानाध्यापक का निलंबन तय  सुइथाकला, जौनपुर।  तहलका 24x7               शिक्षा के क्षेत्र में...

More Articles Like This