जौनपुर : आरोप! डाक्टर की लापरवाही के चलते हुई थी गर्भवती महिला की मौत

जौनपुर : आरोप! डाक्टर की लापरवाही के चलते हुई थी गर्भवती महिला की मौत

# गर्भवती पत्नी की मौत पर पति ने थानेदार को सौंपी तहरीर, किया उचित कार्रवाई की मांग

खुटहन।
मुलायम सोनी
तहलका 24×7
                स्थानीय थाना क्षेत्र के अस्पताल रोड स्थित किरन पालिक्लीनिक में भर्ती एक महिला ने डॉक्टरों की लापरवाही की वजह से बीते 1 सितंबर को दम तोड़ दिया था। जिससे परिजनों पर दुखों का पहाड़ टूट गया। मृतका के पति ने चिकित्सक पर गम्भीर आरोप लगाते हुए थानाध्यक्ष को तहरीर देकर चिकित्सक के विरुद्ध कार्यवाही की मांग की है।सरपतहां थाना क्षेत्र के घुघुरी सुल्तानपुर गॉव निवासी राजमणि ने थानाध्यक्ष को तहरीर देकर महिला चिकित्सक पर गम्भीर आरोप लगाया है। उनका कहना है कि पत्नी ज्योति गर्भवती थी। जिनका इलाज उन्हीं के गांव की आशा किरन अशगरी बानो के देख-रेख में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खुटहन में चल रहा था।

गत 25 अगस्त 2021 को ज्योति की तबीयत खराब होने पर परिजनों ने आशा से संपर्क किया तो वह साथ में लेकर खुटहन चली गयी। वहां किरन पालिक्लीनिक खुटहन में आशा के कहने पर भर्ती करा दिया। परिजनों का आरोप है कि डॉ किरण यादव स्त्री रोग विशेषज्ञ ने कहा कि समय नहीं है। जच्चा-बच्चा की जान को खतरा है। ऑपरेशन करना बहुत जरूरी है। ऐसा कहने पर डरे सहमे परिजन तैयार हो गए। डॉक्टर ने ऑपरेशन का पचास हजार खर्चा पहले जमा करा लिया। उसके बाद ऑपरेशन कर दिया। परिजनों ने कहा कि अस्पताल की लापरवाही का आलम यह था कि अस्पताल में ही ज्योति के पेट मे लगा टांका टूट गया था।
जिसकी सूचना भी परिजनों द्वारा डॉक्टर को 31 अगस्त को ही दे दी गयी। लेकिन डॉक्टर ने बेहोशी का इंजेक्शन लगाकर मरीज को सुला दिया। नतीजा यह हुआ कि टांका टूटने की वजह से इन्फेक्शन लगातार बढ़ने लगा और मरीज की हालत बद से बदतर होने लगी। हालत गम्भीर देख डॉ किरन अपनी गाड़ी से आनन-फानन में मरीज को उजाला हॉस्पिटल ले कर चली गई। जहां चिकित्सकों ने कहा कि मरीज की मृत्यु 1 घंटे पूर्व ही हो चुकी है। पत्नी की मौत से गमगीन पति राजमणि ने खुटहन पुलिस को लिखित तहरीर देकर न्याय की गुहार लगाई है। थानाध्यक्ष बिजेन्द्र सिंह ने कहा तहरीर मिली है। जांच के बाद आवश्यक कार्यवाही की जाएगी।