जौनपुर : आर्थिक तंगी के चलते जमीन व्यवसाई ने खुद को मारी गोली, मौत

जौनपुर : आर्थिक तंगी के चलते जमीन व्यवसाई ने खुद को मारी गोली, मौत

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
                नगर कोतवाली के सरायपोखता चौकी अंतर्गत कठघरा मोहल्ले में शनिवार भोर में जमीन की खरीद-फरोख्त करने वाले व्यवसायी मोतीलाल पुत्र बाबूलाल ने आर्थिक तंगी से परेशान होकर स्वयं को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। सुबह उठे परिजनों में शव देखकर कोहराम मच गया। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। 
नगर के सरायपोख्ता चौकी अंतर्गत कटघरा निवासी मोतीलाल पुत्र बाबूलाल ने शनिवार भोर में स्वयं को लाइसेंसी बंदूक से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। कटघरा निवासी मोती लाल यादव 50 वर्ष शुक्रवार की रात खाना खाने के बाद बरामदे में सो रहा था। यहीं उसकी बंदूक भी रखी हुई थी, जबकि परिवार के लोग अपने-अपने कमरों में सो रहे थे। मोती लाल यादव ने देर रात अपनी बंदूक को अपने दोनों पैरों के बीच में खड़ी कर ली। बंदूक की नोंक पर अपनी गर्दन लगा ली और बंदूक के ट्रिगर में लकड़ी डाल दी। इसके बाद लकड़ी को रस्सी से बांधकर दोनों पैर से खींच दिया। जिससे चली गोली से उसकी मौत हो गई।

वहीं परिवार के लोगों के मुताबिक, रात में गोली चलने की आवाज सुनाई दी थी। लेकिन उन्हें लगा कि सड़क किनारे घर होने के कारण किसी की गाड़ी के टायर फटा होगा। जिसके कारण वह नहीं उठे, लेकिन सुबह उठे तो बरामदे में मोती लाल का शव देखकर हौरान हो गए और परिवार में कोहराम मच गया। सूचना पर पहुंचे शहर कोतवाल संजीव कुमार मिश्र ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। कोतवाल ने बताया कि परिवार के लोग मौत की वजह आर्थिक तंगी बता रहे हैं। उनका कहना है कि आर्थिक तंगी के चलते परिवार में काफी परेशानी चल रही थी। संभवतः इसी वजह से तनाव में चल रहे मोतीलाल ने आत्महत्या कर ली। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है। उसकी रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।
Previous articleजौनपुर : “महिला उत्पीड़न प्रकोष्ठ” के तत्वावधान में हुई मिशन शक्ति के उद्देश्यों पर चर्चा
Next articleजौनपुर : पुलिस मुठभेड़ के दौरान तीन शराब तस्कर गिरफ्तार
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏