जौनपुर : एकतरफ़ा प्यार में सिरफिरे युवक ने मां-बेटी को उतारा मौत के घाट

जौनपुर : एकतरफ़ा प्यार में सिरफिरे युवक ने मां-बेटी को उतारा मौत के घाट

# पुलिस ने आरोपी युवक को किया गिरफ्तार, दफ़्न किये गये मां-बेटी के शव को किया बरामद 

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
                     एकतरफा प्यार में सिरफिरे युवक ने युवती की मां और बहन की हत्या कर दी साथ ही लड़की के छोटे भाई का अपहरण कर लिया और उसके साथ मुंबई भागने की फिराक में था। पुलिस ने गुरुवार को आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी ने मां और बेटी की हत्या कर शवों को उनके घर में ही दफना दिया। पुलिस ने दोनों के शव खुदाई कर बाहर निकाले साथ ही अपहृत बच्चे को बरामद कर लिया है पुलिस आगे की कार्रवाई में जुट गई है।

कोतवाली क्षेत्र के तारापुर मोहल्ला निवासी एक व्यक्ति ने 16 मार्च को पुलिस को तहरीर दी कि पड़ोसी अब्दुल ने उसकी पत्नी अनीशा (40), छोटी बेटी बीना (12) और बेटा मुहम्मद (6) को भगा ले गया है। काफी खोजबीन के बाद भी उनका पता नहीं चल रहा। पुलिस ने अब्दुल को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने बताया कि महिला दोनों बच्चों के साथ अपने पहले पति के पास बनारस चली गई है। पुलिस ने वहां जानकारी की तो पता चला कि तीनों यहां आए ही नहीं थे। इस बीच अब्दुल ने रिश्तेदारी में गई महिला की बड़ी बेटी मुस्कान (17) को फोन कर धमकी दी कि अगर उसने उससे शादी नहीं की तो वह उसकी मां-बहन व भाई की हत्या कर देगा। इसकी सूचना के बाद पुलिस फिर हरकत में आई।

बुधवार शाम को पुलिस ने उसके पड़ोसी अब्दुल को जब वो मुबई भगाने की फिराक में था मौके से हिरासत में लेकर पूछताछ किया तो उसने पहले पुलिस को गुमराह करने की कोशिश लेकिन कड़ाई से पूछताछ उसने अपना जुर्म स्वीकार करते हुए बताया कि माँ बेटी की गला दबाकर हत्या कर दी है। दोनों शव को अपने घर मे दफ़न कर दिया है। आरोपी की निशानदेही पर कब्र खोदकर शव को निकाला गया। पुलिस के अनुसार वारदात के पीछे आरोपी ने बताया कि लॉक डाउन के दरम्यान मृतक की बड़ी बेटी से उसका प्रेम प्रसंग हो गया था। यह बात अनिशा को पता चली तो उसने अपनी बेटी मुस्कान को गाजीपुर में एक रिश्तेदार के घर भेज दिया। जिसके कारण मैंने अनिशा व उसकी छोटी बेटी बीना की गला दबाकर हत्या कर दी और इसके एक पांच साल के लड़के को अपने साथ लेकर भागने वाला था।

घटना के संबंध में जानकारी देते हुए पुलिस अधीक्षक राजकरण नैयर ने बताया कि कोतवाली में 23 मार्च को मेहसर हसन पुत्र बाबू ने कोतवाली में तहरीर दिया कि उनकी पत्नी अनिशा और उसके दो बच्चे बीना और मोहम्मद के साथ पड़ोसी अब्दुल के साथ कहीं भाग गई है। इस संबंध में अब्दुल का मोबाइल नंबर हमें उपलब्ध कराए गए मामले में मुकदमा पंजीकृत कर के पुलिस द्वारा पत्नी और बच्चे की खोज में टीम लग गई। इस संबंध में विभिन्न जगहों पर दबिश दी गई। अंत मे हमने अब्दुल जो मुबई भगाने की फिराक में था को गिरफ्तार किया। पूछताछ के दौरान उसने हमें बरगलाने की कोशिश की गई और बताया कि मृतका अनीशा अपने पहले पति के बेटे के साथ वाराणसी उसके घर है।जब क्रास चेक कराया गया तो वह नहीं थी।

जब पुनः आरोपित से कड़ाई से पूछताछ की गई तो उसने बताया कि उसने अनीशा और उसकी बेटी की गला दबाकर हत्या कर दिया है और लाश को घर में ही दफन कर दिया है। अभियुक्त की निशानदेही पर मजिस्ट्रेट की उपस्थिति में शव को निकलवाया गया और पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया गया है। मेहसर का 5 वर्षीय पुत्र मोहम्मद को सकुशल बरामद करके उसके पिता को सौंप दिया गया है। अब्दुल ने इस घटना में उसकी दूसरी मां के बेटे एख़लाक के शामिल होने की बात कबूल किया है। एख़लाक को भी हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। मृतका की बेटी मुस्कान और अब्दुल के बीच प्रेम प्रसंग के भी मामले सामने आ रहे हैं। आगे जो भी विवेचना में आएंगे उसे अवगत कराया जाएगा।
Mar 25, 2021

Previous articleजौनपुर : कैंप लगाकर विद्युत विभाग ने किया लाखों के बकाये की वसूली
Next articleआजमगढ़ : ब्लाक स्तरीय प्रेरणा ज्ञानोत्सव समारोह का हुआ आयोजन
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏