जौनपुर : एजेंट से धोखाधड़ी के शिकार हुए पीड़ित ने खटखटाया पुलिस कप्तान का दरवाजा

जौनपुर : एजेंट से धोखाधड़ी के शिकार हुए पीड़ित ने खटखटाया पुलिस कप्तान का दरवाजा

# थानाध्यक्ष व क्षेत्राधिकारी शाहगंज से शिकायत के बाद भी नहीं हुई कार्यवाही

# पैसा मांगने पर गाली देते हुए फर्जी मुकदमें में फंसाने का धमकी देता है आरोपी

खेतासराय।
अज़ीम सिद्दीकी
तहलका 24×7
              एक कंपनी का एजेंट बनकर लोगों से पैसा हड़प लेने का मामला प्रकाश में आया है जिसमें पीड़ित द्वारा इसकी शिकायत थानाध्यक्ष को लिखित देकर कार्यवाही की मांग किया था लेकिन थानाध्यक्ष द्वारा कार्यवाही नहीं किया गया। पीड़ित न्याय की गुहार लगाने क्षेत्राधिकारी शाहगंज के पास पहुँचा तो वहाँ से मायूस ही लौटना पड़ा जिससे पीड़ित अब शिकायती पत्र लेकर पुलिस कप्तान के दरबार पहुँचा है। अब देखना है क्या पुलिस मामले के तह में जाकर पीड़ित के साथ न्याय करेगी या फिर मामले को ठंडे बस्ते में रख देगी?

रानीमऊ गांव निवासी पीड़ित सरवर पुत्र अलीमुद्दीन ने पुलिस अधीक्षक जौनपुर को एक शिकायत पत्र देकर न्याय की उम्मीद की है। आरोप है कि उसके साथ गांव के कुछ लोग धोखाधड़ी करके पैसा ले लिए है। अब पैसा मांगने पर भद्दी-भद्दी गाली व फ़र्ज़ी मुकदमे में फंसाने की धमकी दे रहे है। जिससे न्याय के लिए थानाध्यक्ष व क्षेत्राधिकारी को लिखित सूचना दिया था। लेकिन अभी तक कार्यवाही नहीं की गई।
जिससे थकाहारा पीड़ित पुलिस अधीक्षक के दरबार मे प्रार्थना- पत्र दिया उक्त पीड़ित का आरोप है कि गांव निवासी सेहरा बानो पुत्री हकीमुद्दीन, तरुनआरा बानो पत्नी रफीउद्दीन, रफीउद्दीन पुत्र हकीमुद्दीन, तनवीर बानो पत्नी हिसामुद्दीन सोवरजन माल्टो परवज़ कोऑपरेटिव सोसायटी लिमिटेड साहबगंज झारखण्ड कम्पनी में एजेंट का काम करते है। उक्त लोगों द्वारा मेरी पत्नी और माँ का पॉलिसी किया था।
पॉलिसी यह कह कर किया था पॉलिसी पूर्ण होने पर पैसा ब्याज समेत वापिस होगा। अब पैसा मांगने पर उक्त एजेंटों द्वारा भद्दी- भद्दी गाली दिया जा रहा है और फ़र्ज़ी मुकदमे में फंसाने का धमकी भी दे रहे है। इतना ही नहीं बल्कि गांव के राजेन्द्र पुत्र नखड़ू, शाहजहां पत्नी अकबाल, सहरुन निशा पत्नी मुशीर, गुलशाना पत्नी सरवर, रेहना पत्नी अलीमुद्दीन, आजुल पत्नी कुतुबुद्दीन व रसूलन पत्नी यूसुफ भी इस तरह से धोखाधड़ी का शिकार हुए है। प्रार्थी का आरोप है कि मेरी पत्नी व मां को बहला फुसलाकर व धोखाधड़ी करके पैसा हड़प लिया गया।
जिसमें से मेरी पत्नी से 38,000 व मेरी माँ रेहाना से 18,000 और ब्याज की क्षति हुई है। जिसकी शिकायत थानाध्यक्ष व क्षेत्राधिकारी से करने के बाद कार्यवाही नहीं की गई। न्याय के उम्मीद से एसपी से प्रार्थना-पत्र देकर शिकायत किया है। अब देखना है मामले में पीड़ित को न्याय मिल पाता है या फिर मामला ठंडे बस्ते में चला जाता है? फिलहाल इन एजेंटों का आईआरडीए (irda) एजेंट कोड भी नहीं है और जब मैच्यूरिटी पूरी हो गयी तो पैसा देने की बात करके सभी ग्राहकों का पालिसी बांड भी रख लिया लगभग 15 लाख की ठगी हुई सिर्फ एक गांव से दर्जनों ग्रामीणों को शिकार बनाया गया है।
Previous articleजौनपुर : जाली नोट रैकेट का मुख्य सरगना गिरफ्तार
Next articleजौनपुर : शिवसेना ने किया खुशी दुबे के इलाज की मांग
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏