जौनपुर : एसडीएम-सीओ के लिखित आश्वासन के बाद शवदाह को तैयार हुए परिजन

जौनपुर : एसडीएम-सीओ के लिखित आश्वासन के बाद शवदाह को तैयार हुए परिजन

खुटहन।
मुलायम सोनी
तहलका 24×7
                   क्षेत्र अंतर्गत चककुतबी गांव में बीते गुरुवार को खुटहन- पट्टी नरेन्द्रपुर मार्ग पर अज्ञात बदमाशों के द्वारा गोली मारकर एक युवक की हत्या किए जाने के मामले में पोस्टमार्टम के बाद शव घर पहुंचते ही परिजनों में कोहराम मच गया। परिजन शव से लिपटकर दहाड़े मारकर रोने लगे। इस प्रकार की करुणामयी दृश्य देखकर घटना से आक्रोशित परिजनों व ग्रामीणों ने शव घर पर रखकर प्रदर्शन शुरू कर दिया।

पुलिस के लाख समझाने के बाद भी वे शवदाह को राजी नहीं हो रहे थे। सूचना होने पर मौके पर पहुँचें एसडीएम राजेश वर्मा और सीओ अंकित कुमार ने आक्रोशित परिजनों को समझाया और कहा कि प्रशासन के द्वारा पीड़ित परिजनों को आर्थिक मदद के अलावा हर सम्भव सहायता शासन के द्वारा महैया करवायी जाएगी। प्रशासन द्वारा लिखित आश्वासन के बाद शव घर आने बाद परिजन अंतिम संस्कार करने को तैयार हो गए।

उल्लेखनीय है कि उक्त गांव निवासी सत्यप्रकाश मिश्रा उर्फ वकील (37) की बदमाशो ने खुटहन-पट्टी नरेन्द्रपुर मार्ग पर घर से चंद कदम की दूरी पर गोली मार हत्या कर दी थी। यह हत्या उस समय हुई जब वे गुरुवार की देर शाम पट्टी नरेंद्रपुर बाजार से वापस अपने घर जा रहे थे। हत्या के बाद सड़क किनारे शव छोड़कर बदमाश भाग निकले। गोली चलने की आवाज सुनकर घटनास्थल पर पहुंचे ग्रामीणो ने देखा कि एक व्यक्ति औंधे मुंह पड़ा है।

उसकी पहचान सत्य प्रकाश मिश्रा उर्फ वकील निवासी चककुतुबी, खुटहन के रूप में हुई। उसके सिर में नजदीक से गोली मारी गयी थी। जीवित होने के भरोसा लेकर पुलिस उसे सीएससी ले गयी। जहाँ चिकित्सको ने उसे मृत घोषित कर दिया था। दुर्घटना अथवा गोली से सिर में चोट लगने की उहापोह की स्थिति में शव को अंत्य परीक्षण हेतु जिला मुख्यालय भेज दिया गया था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद तमंचे की गोली लगने से युवक की मौत की पुष्टि हो सकी।

# आक्रोशित परिजनों ने शव को घर पर रखकर किया प्रदर्शन

आक्रोशित मृतक के स्वजन शव घर पर रख प्रदर्शन करने लगे। वे सुरक्षा, आर्थिक सहायता और हत्यारो की गिरफ्तारी की मांग को लेकर उच्चाधिकारी के मौके पर आने के बाद शवदाह करने को लेकर अड़ गये। दूसरे दिन सुबह मौके पर पहुँचें एसडीएम और सीओ ने उन्हें सुरक्षा मुहैया कराए जाने के साथ साथ परिवार को अहेतुक सहायता तथा किसान बीमा का धन दिलाने का लिखित आश्वासन दिया तब जाकर परिवार के लोग अंतिम संस्कार को तैयार हुए।
Feb 20, 2021

Previous articleजौनपुर : अखिल भारतीय कुश्ती प्रतियोगिता का हुआ आयोजन
Next articleजौनपुर : जालसाज ने किया महिलाओं से लाखों का गबन
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏