जौनपुर : ओवररेटिंग के चलते उर्वरक की दुकान सीज

जौनपुर : ओवररेटिंग के चलते उर्वरक की दुकान सीज

# ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने दिया लाइसेंस निरस्त करने का आदेश

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
               निर्धारित मूल्य से अधिक पर डीएपी की बिक्री कर रहे दुकानदार पर कार्रवाई की गई है। शिकायत की पुष्टि होने के बाद ज्वाइंट मजिस्ट्रेट हिमांशु नागपाल ने दुकान सीज कर लाइसेंस निरस्त करने का आदेश दिया है। इस कार्रवाई से दुकानदारों में खलबली मच गई है।
ज्वाइंट मजिस्ट्रेट के सीयूजी नंबर पर किसान ने शिकायत की थी कि सिकरारा क्षेत्र के डमरूआ गांव स्थित तिवारी खाद भंडार से निर्धारित मूल्य से अधिक डीएपी का लिया जा रहा है। बिक्री में व्यापक अनियमितता बरती जा रही है। मामले को गंभीरता से लेते हुए अतिरिक्त उप जिलाधिकारी (द्वितीय) प्रदीप कुमार ने जांच कर आख्या प्रस्तुत की। जांच में पुष्टि हुई कि 30 नवंबर को 11 किसानों ने डीएपी की खरीद की थी। इनमें से महेंद्र गिरि निवासी चकमहिता से फोन से वार्ता किया गया। उन्होंने बताया कि दुकानदार ने 1400 रुपये प्रति बोरी के हिसाब से लिया है। जांच के दौरान दुकानदार गायब हो गया। मौके पर मौजूद उनके पिता ने भी जांच में सहयोग नहीं किया।
ग्राम प्रधान व आस-पास के लोगों की मौजूदगी में दुकान सीज कर दिया गया। ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने बताया कि दुकान का लाइसेंस निरस्त कर आरोपित के विरुद्ध कार्रवाई के लिए जिला कृषि अधिकारी को पत्र भेजा गया है।

Earn Money Online

Previous articleजौनपुर : साक्ष्य छिपाने के उद्देश्य से वृद्धा का शव खेत में दफनाया
Next articleजौनपुर : शव को सड़क पर रखकर आक्रोशितों ने किया रास्ता जाम
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏