जौनपुर : कर्ज से डूबे युवक ने फाँसी लगाकर की आत्महत्या, आर्थिक तंगी से जूझ रहा था परिवार

जौनपुर : कर्ज से डूबे युवक ने फाँसी लगाकर की आत्महत्या, आर्थिक तंगी से जूझ रहा था परिवार

खेतासराय।
अज़ीम सिद्दीकी
तहलका 24×7
                 कर्ज में डूबे पोरईकला गांव के एक किसान ने आजमगढ़ की सीमा पर फांसी लगाकर जान दे दी। मंगलवार की शाम उसका शव घर से लगभग दो किमी दूर सीवान में बबूल के पेड़ से लटकता मिला। मौके पर पहुंची दीदारगंज व खेतासराय थाने की पुलिस मौके पर पहुंच कर जांच पड़ताल में जुट गयी।

जानकारी के मुताबिक खेतासराय थाना क्षेत्र के पोरईकला गांव निवासी 45 वर्षीय प्रेमचंद्र राजभर पुत्र स्व. वंशराज चार भाइयों में सबसे छोटा था। पिता की मौत के बाद प्रेमचंद अपनी पत्नी और पांच बच्चों के साथ अलग रहता था। साथ में उसकी मां भी रहती है। खेती करके वह किसी तरह अपना और परिवार की जीविका चलाता था।
बताया जाता है कि वह इन दिनों आर्थिक तंगी से जूझ रहा था। इस बीच वह किसी से कर्ज भी ले रखा था। जिसे लेकर वह काफी परेशान रहता था। अपनी मां की साड़ी लेकर वह घर से कब निकल गया किसी को जानकारी तक नहीं हुई। सायं लगभग पांच बजे सीवान में प्रेमचंद का शव बबूल के पेड़ पर साड़ी के फंदे से लटकता मिला। घटना से परिजनों में कोहराम मचा है। उसकी पत्नी रेखा और बच्चों का रो रो कर बुरा हाल हो गया है।
Previous articleजौनपुर : दीवार ढहने से मांँ-बेटी घायल, पेड़ की डाल से दबकर मरी गाय
Next articleकोरोना की क्रूर दास्तान : 24 दिनों में 4 सगे भाई सहित परिवार के 8 सदस्यों की हुई मौत, एक साथ हुई 5 की तेरहवीं
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏