जौनपुर : कानपुर बिकरू कांड में 10 माह से बंद निर्दोष महिलाओं एवं बच्चे की रिहाई के लिए आप पार्टी ने सौंपा ज्ञापन

जौनपुर : कानपुर बिकरू कांड में 10 माह से बंद निर्दोष महिलाओं एवं बच्चे की रिहाई के लिए आप पार्टी ने सौंपा ज्ञापन

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
               आम आदमी पार्टी की जौनपुर ईकाई ने बंटी अग्रहरी के नेतृत्व में कानपुर बिकरू कांड में विधि के विरुद्ध निर्दोष जेल में बंद महिलाओं व बच्चे को रिहा करने के सम्बन्ध में राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा को सौंपा गया।

इसी दौरान वरिष्ठ जिला उपाध्यक्ष सूर्य नारायण सिंह मुन्ना ने कहा कि कानपुर के बिकरु कांड में कई महिलाओं को नियम क़ानून को ताक पर रखकर पिछले 10 महीनों से जेल में रखा गया है। मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी की सरकार जब से उत्तर प्रदेश में आई है तब से महिलाओं के ऊपर लगातार अत्याचार बढ़ रहे हैं दलितों पर अत्याचार बढ़ रहे हैं उसका जवाब जनता 2022 में भाजपा को देगी। जेल में बंद निर्दोषों में प्रमुख रूप से ख़ुशी दुबे पत्नी अमर दुबे, अमर दुबे की माँ क्षमा दुबे, विकास दुबे की नौकरानी रेखा अग्निहोत्री व उसके ढाई वर्षीय बेटा एंव हीरू दुबे की माँ शांति दुबे हैं।

इसी क्रम में नगर अध्यक्ष बंटी अग्रहरी ने कहा कि बिकरु काण्ड में अमर दुबे का एंकाउंटर हुआ था तीन दिन पहले ख़ुशी दुबे से उसकी शादी हुई थी, पुलिस के रिकॉर्ड में ख़ुशी दुबे के विरुद्ध पहले से कोई आपराधिक मामला दर्ज नहीं था। ख़ुशी दुबे नाबालिग है, उसकी गिरफ़्तारी के बाद जब मीडिया में मामले ने तूल पकड़ा तो कानपुर के तत्कालीन एसएसपी दिनेश कुमार ने मीडिया में बयान दिया की ख़ुशी दुबे निर्दोष है और उसको रिहा कर दिया जाएगा।
पिछले 10 महीने से ख़ुशी दुबे जेल में है कई बार उसे अति गंभीर हालत में बाराबंकी व लखनऊ के अस्पतालों में भर्ती कराया गया। उसको खून की उल्टियां हुईं, इन घटनाओं से परिवार के लोग डरे और सहमे हुए हैं और उन्हें अपनी बेटी के जीवन की चिंता है कि कहीं जेल में उसके साथ कहीं कोई अनहोनी न हो जाए।

 

इसी क्रम में मल्हनी विधानसभा के उपाध्यक्ष इसरार अहमद ने कहा कि इस मामले में सबसे बड़ा सवाल है कि जब स्वयं तत्कालीन एसएसपी मान चुके हैं की खुशी दुबे निर्दोष है तो उसे किस आधार पर उसे जेल में रखककर जेल में 10 महीने से यातनाएं दी जा रही हैं।
अमर दुबे की माँ क्षमा दुबे पिछले 10 महीने से जेल में रखा गया है, पुलिस प्रशासन और सरकार यह बताने में नाकाम है की अमर दुबे की माँ क्षमा दुबे क्यों जेल में बंद है, उनका बिकरू काण्ड से क्या लेना देना है। ज्ञापन देते समय नगर सचिव डॉ मुकेश यादव, करण प्रजापति, अजय यादव, अंकित यादव समेत कई कार्यकर्ता मौजूद रहे।
Previous articleजौनपुर : भाजपा कार्यकारिणी ने जनपद में बनाया छह कोविड सेंटर
Next articleजौनपुर : बैंक आफ इंण्डिया के कैशियर पर लगा चार हजार रुपये घपला करने का आरोप
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏