जौनपुर : कृषि के विकास को स्थायित्व प्रदान करने में ‘आत्मा’ मददगार

जौनपुर : कृषि के विकास को स्थायित्व प्रदान करने में ‘आत्मा’ मददगार

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
              कृषि विज्ञान केन्द्र बक्शा में शुक्रवार को सबमिशन ऑन एग्रीकल्चर एक्सटेंशन (आत्मा) योजना के अंतर्गत रणनीतिक अनुसंधान एवं प्रसार योजना (एस.आर.ई.पी) का पुनरीक्षण किए जाने से संबंधित बैठक का आयोजन उप कृषि निदेशक जय प्रकाश की अध्यक्षता में किया गया।योजना के अंतर्गत जनपद के विभिन्न एग्रो क्लाइमेटिक जोन के आधार पर कृषि के विभिन्न आयामों के अंतर्गत आगामी पांच वर्षों के लिए कृषि योजना की तैयारी के संबंध में अधिकारियों, वैज्ञानिकों एवं प्रगतिशील किसानों ने मंथन किया।

बैठक के दौरान उप कृषि निदेशक द्वारा कृषि योजना बनाए जाने के संबंध में विभिन्न ब्लाकों से आए हुए कर्मचारियों को आवश्यक दिशा निर्देश व मार्गदर्शन दिया गया एवं विभिन्न प्रकार के आंकड़ों को उपलब्ध कराए जाने हेतु निर्देशित किया गया । जिसके आधार पर आगामी कार्य योजना में पुनरीक्षण का कार्य संपादित कराए जा सके।जिला कृषि अधिकारी केके सिंह ने कहा कि जिले में कृषि के विकास को स्थायित्व प्रदान करने के आत्मा योजना मददगार हो रही हैं।
बैठक में जिला उद्यान अधिकारी हरिशंकर राम, बरिष्ठ कृषि वैज्ञानिक एवं अध्यक्ष केवीके बक्शा डा. सुरेश कन्नौजिया, डा. सुरेन्द्र सोनकर, इंजीनियर वरुण, डा. अनिल यादव, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डा. राजेश सिंह ने भी कार्ययोजना हेतु आवश्यक सुझाव दिए। संचालन उप परियोजना निदेशक आत्मा डा. रमेश चंद्र यादव ने किया। कार्यक्रम के अंत में जिला कृषि अधिकारी केके सिंह ने धन्यवाद ज्ञापित किया। इस मौके पर क्षेत्रीय कर्मचारियों सहित दुर्गा मौर्या, अनिता, शर्मिला, आशा देवी, राजनाथ यादव, राकेश मिश्रा, त्रिभुवन सिंह आदि प्रगतिशील किसान मौजूद रहें।
Previous articleजनवादी पार्टी सोशलिस्ट की “भाजपा हटाओ प्रदेश बचाओ” यात्रा को मिल रहा है भारी समर्थन
Next articleजौनपुर : गुरदौली में नहीं हो सका कोटे की दुकान का चयन
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏