जौनपुर : कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप के चलते ईदगाह में नहीं होगी ईद की नमाज़

जौनपुर : कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप के चलते ईदगाह में नहीं होगी ईद की नमाज़

जौनपुर।
फैज़ान अंसारी
तहलका 24×7
                 आज जिस तरीके से पूरे मुल्क में कोरोना की दूसरी लहर ने कहर बरपा रखा है उससे निजात पाने के लिए घरों में ही रहना मुफीद है। सरकार भी कोरोना कर्फ्यू लगा कर कोरोना संक्रमण की चैन तोड़ने के लिए प्रयासरत है। इसको देखते हुए शाही ईदगाह कमेटी के सदस्यों ने जौनपुर के शाही इमाम हजरत मौलाना सूफी जफर अहमद साहब से मुलाकात कर उनका हालचाल जाना और शाही ईदगाह के नायब इमाम फैस़ल कम़र साहब से मशविरा करने के बाद यह निर्णय लिया है कि मौजूदा हालात को देखते हुए इस साल भी शाही ईदगाह में ईद की नमाज नहीं पढ़ी जाएगी। पिछले 100 साल के इतिहास मे यह दूसरी बार शाही ईदगाह मे ईद की नमाज नही होगी सन 2020 मे भी कोरोना महामारी के कारण दोनो ईद की नमाज नहीं हो पाई थी।
पूर्वांचल की सबसे बड़ी व शाही ईदगाह जिसका निर्माण मुगल बादशाह अकबर ने 16वीं सदी मे कराया था कि कमेटी ने आवाम से गुज़ारिश की है कि वह लोग ईद के दिन अपने अपने घरों पर ही नफ़ल नमाज़ पढ़ कर खुदा से इस वबा के खात्मे के लिए दुआ करें, मौलाना से मुलाकात करने के बाद शाही ईदगाह कमेटी की एक जरूरी बैठक शाही ईदगाह के प्रांगण में हुई।जिसमें मुख्य रुप से सदर मिर्जा दावर बेग, सेक्रेटरी मो. शोएब अच्छू खाॅ, नेयाज ताहिर शेखू, रियाज़ुल हक़, मो अली, हाजी इमरान, खालिद समेत कई लोग मौजूद रहे।
Previous articleजौनपुर : रस्सी के फंदे से लटकता मिला युवक का शव, आत्महत्या की आशंका
Next articleजौनपुर : शपथ बाद पावर में आएंगी गाँव की सरकार…
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏