जौनपुर : खेती को उद्यम के रूप में अपनाने की आवश्यकता- डॉ रमेश चंद्र

जौनपुर : खेती को उद्यम के रूप में अपनाने की आवश्यकता- डॉ रमेश चंद्र

# रबी गोष्ठी में किसानों को किया गया प्रशिक्षित

खुटहन।
मुलायम सोनी
तहलका 24×7
               कृषि विभाग द्वारा गुरुवार को विकास खंड खुटहन एवं करंजाकला के परिसर में कृषि सूचना तंत्र के सुदृढ़ीकरण एवं कृषक जागरूकता कार्यक्रम योजनान्तर्गत रबी उत्पादकता गोष्ठी का आयोजन किया गया। जहां किसानों की आय दूनी करने के उपाय, पराली प्रबंधन, गेहूँ की लाईन में बुआई, विपणन व्यवस्था, मृदा स्वास्थ्य, रबी फसलों के बेहतर उत्पादन वाली तकनीकियों एवं लाभकारी कृषि योजनाओं से विशेषज्ञों द्वारा किसानों को प्रशिक्षित किया गया।

गोष्ठी को सम्बोधित करते हुए उप परियोजना निदेशक (आत्मा) डा. रमेश चंद्र यादव ने कहा कि प्रदेश का विकास कृषि के विकास में निहित है। पूर्व में कृषि विकास हेतु संचालित योजनाओं में उत्पादन, उत्त्पादकता वृद्धि एवं खाद्य सुरक्षा पर विशेष बल रहा है। वर्तमान बाजार व्यवस्था में उत्पादन/उत्पादकता वृद्धि किसानों के आय में वृद्धि की गारन्टी नहीं है। उत्पाद का मूल्य सम्बर्धन, ग्रेडिंग, प्रसंस्करण, पैकेजिंग कर किसानों की समृद्धि की जा सकती है। डा. यादव ने किसानों को सम्बोधित करते हुए कहा कि किसानों को अब खेती को आजीविका के साधन के रूप में नहीं बल्कि उद्यम के रूप में अपनाने की आवश्यकता है, इसमें कृषि तथा संबंधित विभागों यथा पशुपालन, उद्यान, मत्स्य, मंडी का सहयोग किसान भाइयों को लेना होगा।

कृषि वैज्ञानिक डा. अनिल कुमार यादव ने किसानों को कतार में बुआई, फसल चक्र, सन्तुलित उर्वरक प्रबंधन, जल प्रबंधन, फसल अवशेष प्रबंधन, एकीकृत नाशीजीव प्रबंधन, समन्वित कृषि प्रणाली, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना एवं जैविक खेती की जानकारी विस्तार से दिया। उन्होंने रबी फसलों में कीट एवं रोगों के बचाव की जानकारी दिया। कृषि वैज्ञानिक ने मशरूम उत्पादन की तकनीक तथा बीज शोधन, भूमि शोधन, सिंचाई, खरपतवार नियंत्रण की जानकारी दी।

विशिष्ट अतिथि ब्लाक प्रमुख करंजाकला सुनील कुमार यादव तथा प्रमुख सुईथाकलां उमेश तिवारी ने भी गोष्ठी को संबोधित किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता ब्लाक प्रमुख बृजेश यादव तथा संचालन एडीओ मुकेश कुमार कन्नौजिया ने किया। एडीओ एजी. डॉ मनोज यादव ने आभार जताया। इस मौके तकनीकी सहायक डा. चन्द्रमणि, प्रेमचन्द पाल, बीटीएम जुनेद अहमद, राजेन्द्र प्रसाद पाल, महेंद्र सिंह, अनिल सिंह, विमल सिंह, पंकज उपाध्याय, नीलम, आशा, रेखा, सुनीता, हीरालाल, लक्ष्मण दास, सभाजीत आदि किसान मौजूद रहे।

Earn Money Online

Previous articleजौनपुर : लापता बच्चे का पता लगाकर पुलिस ने पोछे मां के आसूं
Next articleजौनपुर : लंबित भुगतान को लेकर जिम्मेदार अधिकारी ने की भुगतान प्रकिया शुरू
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏