जौनपुर : गांधी सिर्फ एक नाम नहीं, वैश्विक पटल पर शांति और अहिंसा का प्रतीक है- शाहिद नईम

जौनपुर : गांधी सिर्फ एक नाम नहीं, वैश्विक पटल पर शांति और अहिंसा का प्रतीक है- शाहिद नईम 

# जेसीआई शाहगंज संस्कार के तत्वावधान में चलाया गया स्वच्छता अभियान, किया गया पौधरोपण

शाहगंज।
रवि शंकर वर्मा
तहलका 24×7
                क्षेत्र अंतर्गत तालीमाबाद सबरहद स्थित सर सैय्यद अहमद इंटर कालेज में जेसीआई शाहगंज संस्कार के तत्वावधान में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं सहजता व सादगी की प्रतिमूर्ति पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती धूमधाम से मनाई गई। स्वच्छ भारत की परिकल्पना करने वाले दोनों विभूतियों की जयंती पर कालेज परिसर में वृहद स्वच्छता अभियान चलाकर पौधारोपण किया गया।

इस दौरान कालेज के प्रधानाचार्य एंव संस्थाध्यक्ष जेसी शाहिद नईम ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि राष्ट्रपति महात्मा गांधी वैश्विक पटल पर सिर्फ एक नाम नहीं अपितु शांति और अहिंसा का प्रतीक है तभी तो संयुक्त राष्ट्र संघ ने भी वर्ष 2007 से गांधी जयंती को ‘विश्व अहिंसा दिवस’ के रूप में मनाए जाने की घोषणा की है। वहीं जेसी विशाल जायसवाल ने कहा कि सहजता एवं सादगी के प्रतिमूर्ति पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री अपनी उदात्त निष्ठा एवं क्षमता के लिए लोगों के बीच प्रसिद्ध थे। विनम्र, दृढ़, सहिष्णु एवं जबर्दस्त आंतरिक शक्ति वाले शास्त्री जी लोगों के बीच ऐसे व्यक्ति बनकर उभरे जिन्होंने लोगों की भावनाओं को समझा। वे दूरदर्शी थे जो देश को प्रगति के मार्ग पर लेकर आये।

वहीं कार्यक्रम संयोजक जेसी नसीम अहमद ने कहा कि ऐसी महान विभूतियों के बताएं रास्ते पर चलकर सशक्त भारत के निर्माण में अपनी सहभागिता दर्ज कराने की आवश्यकता है जो हम सभी का नैतिक कर्तव्य है। इस दौरान विभिन्न प्रकार के औषधीय पौधे रोपे गये। कार्यक्रम को सफल बनाने में जेसी गुलाम साबिर, जेसी एख़लाक खां, जेसी फजल इलाही, जेसी सिराज आतिश, जेजे अब्दुर रहमान, जेसी जेसी ज़ीशान नईम, जेसी नसीम, जेसी मिर्ज़ा ज़रयाब बेग, शिशिर यादव, अरशद अली, आनंद सिंह, मोहम्मद असद आदि ने महती भूमिका निभाई।
Previous articleजौनपुर : गांधी जयंती की पूर्व संध्या पर भाषण प्रतियोगिता आयोजित
Next articleआजमगढ़ : कांग्रेसियों ने धूमधाम से मनाई गांधी- शास्त्री जयंती
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏