जौनपुर : गैंगरेप पीड़िता न्याय की आस लेकर पहुंची सीएम व डीजीपी के चौखट पर

जौनपुर : गैंगरेप पीड़िता न्याय की आस लेकर पहुंची सीएम व डीजीपी के चौखट पर

# पुलिस के संरक्षण में घूम रहे हैं बेखौफ अपराधी, पीड़िता को दे रहे हैं धमकी

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
                सरकार चाहें कितने भी दावे कर ले कि हम भयमुक्त, अपराधमुक्त सरकार चला रहे हैं हमारे राज्य में त्वरित न्याय व्यवस्था पूरी तरह से सुदृढ़ हैं, अपराधियों के साथ बिना किसी दबाव के कानून के अनुसार सज़ा दी जाती है मगर जमीनी हकीकत सारे दावों को खोखले साबित कर रहे हैं। पुलिस के संरक्षण में अपराधी फल-फूल रहे हैं। कुछ इसी प्रकार की सच्चाई फिर से सुर्खियों में आयी है जहां गैंगरेप पीड़िता को जौनपुर पुलिस से न्याय न मिल पाने पर पीड़िता ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का दरवाजा खटखटाया है।

गैंगरेप पीड़िता ने जिला मुख्यालय के आला अधिकारियों समेत कमिश्नरेट वाराणसी तक अपनी फरियाद की मगर कहीं से भी उसे किसी भी प्रकार का न्याय नहीं मिल पाया। थक हार कर पीड़िता ने सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एंव कानून व्यवस्था के प्रमुख डीजीपी की चौखट पर अपना दुखड़ा रोकर कर न्याय के लिए फरियाद लगाई है।
पीड़िता के साथ सन 2019 में चार लोगों ने गैंगरेप किया था, जिसका मुकदमा जौनपुर की कोतवाली पुलिस ने पंजीकृत तो कर लिया मगर आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं कर सकी, मगर जब कोर्ट द्वारा गैर जमानती वारंट जारी हुआ तब भी जौनपुर कोतवाली पुलिस अपराधियों पर अपनी नज़र-ए-इनायत बनाए रखी और लगातार कोर्ट की अवहेलना करती रही और आरोपियों को अपना भयमुक्त संरक्षण देती रही, जिसका परिणाम यह हुआ कि आरोपियों का हौसला बुलंद होते रहे और पीड़िता को लगातार धमकियाँ मिलनी शुरू हो गई।
बताया जाता है कि हसन जाहिद नामक आरोपी का संबंध बाहुबली अपराधी मुख्तार अंसारी के एक खास गुर्गे मेराज़ से भी है जिसका कुछ माह पूर्व चित्रकुट की जेल में गैंगवार के दौरान मौत हो गयी थीं। अब ऐसे में सवाल यह उठता है कि क्या सरकार जिस पुलिस बल के भरोसे अपनी साख बढ़ाना चाहती है जब वही उसकी साख पर बट्टा लगा रहे हैं तो क्या वह उन पुलिस अधिकारियों को दंडित कर पाएगी? क्या उस पीड़िता को योगी जी और डीजीपी लखनऊ की चौखट से न्याय मिल पाएगा।
Previous articleजौनपुर : अलग-अलग स्थानों पर हुई मारपीट में चार घायल
Next articleजौनपुर : भुवनेश्वर ने एसडीओ को सौंपा विद्युत सम्बन्धित छह सूत्रीय मांगों का ज्ञापन
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏