जौनपुर : घंटेभर अस्पताल गेट पर तड़पने के बाद शुरु हुआ महिला का उपचार, रेफर

जौनपुर : घंटेभर अस्पताल गेट पर तड़पने के बाद शुरु हुआ महिला का उपचार, रेफर

शाहगंज।
रवि शंकर वर्मा
तहलका 24×7
                  स्थानीय राजकीय पुरुष चिकित्सालय गेट पर घंटे भर महिला तड़पती रही। लेकिन कोई जिम्मेदार उसकी सुधि लेने नही पहुंचा। महिला की हालत देख मौके पर जुटे लोगों के आक्रोश के बाद पहुंचे चिकित्साधीक्षक ने महिला का प्राथमिक उपचार कराने के बाद जिला अस्पताल रेफर कर दिया। महिला की बुरी हालत देख लोग अस्पताल प्रशासन को कोसते रहे।

नोनहट्टा मोहल्ला निवासी मीरा देवी (35) पत्नी दिलीप कुमार को सीने में दर्द व साँस लेने में तकलीफ थी। सुबह नौ बजे परिजन उन्हें राजकीय पुरुष चिकित्सालय लाए। महिला की हालत काफी गम्भीर होने पर वह अस्पताल गेट के पास ही बेसुध होकर तड़पने लगी। परिवार के लोग डाक्टरों से मरीज़ देखने के लिए मिन्नत करते रहे आरोप है कि कोई चिकित्सक देखने के लिए नहीं पहुंचा। घण्टे भर बाद मौके पर जुटी भीड़ जब आक्रोशित होने लगी तो इसकी सूचना मिलते ही चिकित्साधीक्षक डॉ रफीक फारुकी मौके पर पहुंचे। जो महिला को इमर्जेंसी वार्ड में दाखिल कराकर उपचार शुरु कराया। चिकित्सक ने प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल रेफर कर दिया।

 

मामले में पूछे जाने पर चिकित्साधीक्षक डा. रफीक फारुकी ने कहा कि महिला गेट पर थी उसको अंदर आना चाहिए था। सूचना मिलते ही मैं खुद जाकर उसका इलाज शुरु कराया। कहा आक्सीजन की कमी के कारण उसे रेफर किया गया।

बताते चलें कि चार दिन पूर्व एक अज्ञात महिला नोनहट्टा मोहल्ले में तीन घंटे तक तड़पती रही। जिसे कोतवाली पुलिस ने अस्पताल पहुंचाया। एम्बुलेंस न मिलने पर प्राइवेट एम्बुलेंस से उसे देर शाम जिला अस्पताल भेजा जा सका। सप्ताह पूर्व सरपतहां थाना क्षेत्र के रूधौली गाँव के मिर्जापुर निवासी सिकंदर पुत्र राम लगन को अस्पताल लाया गया था। घंटों तड़पने के बाद भी उसका उपचार नहीं किया जा सका और युवक अपनी माँ की गोद में तड़पकर मर गया। ऐसी संवेदनहीन व्यवस्था है शाहगंज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की जहां घंटो तड़पने के बाद मरीजों का इलाज शुरू होता है।
Apr 28, 2021

Previous articleएक लाख का इनामी कुख्यात गैंगस्टर लालू यादव मुठभेड़ में ढेर…
Next articleजौनपुर : आक्सीजन सिलेन्डर लेने आ रहे बाइक सवार दो घायल
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏