जौनपुर : चुनाव में ड्यूटी कटवाने के लिए 1800 बीएलओ ने किया आवेदन

जौनपुर : चुनाव में ड्यूटी कटवाने के लिए 1800 बीएलओ ने किया आवेदन

# जनपद में कुल 3936 हैं बीएलओ, आधे बीएलओ के ड्यूटी कटवाने के आवेदन से प्रशासन चिंताग्रस्त

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
                  आगामी 2022 का विधानसभा चुनाव नजदीक आते ही बीएलओ की ड्यूटी कटवाने की होड़ मच गई है। इसको लेकर एक नवंबर से मतदाता पुनरीक्षण अभियान भी शुरू हो गया है। यहां नौ विधानसभा में बीएलओ की ड्यूटी कटवाने के लिए करीब 1800 आवेदन आए हैं, जिसे लेकर प्रशासन की चिता बढ़ गई है। प्रशासन को सही गलत की पहचान करने में मुश्किल हो रही है। चिंता इस बात की भी है कि यदि आधे बीएलओ की ड्यूटी कट जाएगी तो चुनाव कैसे कराया जाएगा।

नौ विधानसभा क्षेत्रों में बीएलओ की संख्या 3936 है। उम्मीद है कि विधानसभा चुनाव को मार्च तक कराया जाएगा। ऐसे में मतदाता पुनरीक्षण अभियान भी युद्ध स्तर पर शुरू कर दिया गया है। पहले जहां जिलेभर में 3455 बूथ थे तो कोरोना में 1200 से अधिक मतदाताओं वाले स्थलों पर एक अलग बूथ बनाया गया है, जिससे 3936 मतदेय स्थलों पर 3936 बीएलओ लगाए गए है। इस बार संख्या बढ़ने पर रोजगार सेवकों की भी ड्यूटी बीएलओ के तौर पर लगाई गई है। सदर तहसील में तीन विधानसभा क्षेत्र आते हैं। इसमें सदर जौनपुर विधानसभा, जफराबाद विधानसभा, मल्हनी विधानसभा क्षेत्र आते हैं। अकेले इन तीन विधानसभा क्षेत्रों में करीब 600 आवेदन आए हैं। बीएलओ की ड्यूटी कटवाने को तो इसी तरह अन्य विधानसभा क्षेत्रों को मिलाकर कुल 1800 आवेदन आने का अनुमान लगाया जा रहा है।

# विधानसभा वार बीएलओ की संख्या

बदलापुर में 397, शाहगंज में 440, जौनपुर में 481, मल्हनी में 428, मुंगरा बादशाहपुर में 444, मछलीशहर में 451, मड़ियाहूं में 381, जफराबाद में 426, केराकत में 488 बीएलओ हैं।हिमांशु नागपाल, एसडीएम, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने कहा कि चुनाव सामने है और मतदाता पुनरीक्षण अभियान एक नवंबर से चल रहा है। सदर विधानसभा क्षेत्र में अब तक 600 बीएलओ ने ड्यूटी कटवाने को आवेदन किया है। इसी तरह अन्य विधानसभा क्षेत्रों में आरओ के समक्ष आवेदन किया है।
Previous articleजौनपुर : एल-2 हास्पिटल में लगी आग से मची अफरा-तफरी
Next articleआजमगढ़ : अलग-अलग स्थानों पर हुई मारपीट में डेढ़ दर्जन लोग घायल
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏