जौनपुर : जगद्गुरु ने पौधारोपण कर कराया श्रीराम पाणिग्रहण संस्कार

जौनपुर : जगद्गुरु ने पौधारोपण कर कराया श्रीराम पाणिग्रहण संस्कार

विवाह

खुटहन।
मुलायम सोनी
तहलका 24×7
                     क्षेत्र अंतर्गत महमदपुर गुलरा गांव में बीते 1 दिसंबर को दिवंगत हुए, पत्रकार प्रमोद पांडेय के चाचा दिनेश दत्त पांडेय के घर मंगलवार को पहुँचें अयोध्या के तपस्वीजी की छावनी के मठाधीश्वर जगदगुरु परमहंस आचार्य ने शोक संतप्त परिवार को जीवन मरण के रहस्यों को समझाकर ढांढस बंधाया। उसके बाद उन्होंने राम विवाह के पवित्र धार्मिक पर्व पर गाँव मे ही स्थित गुलरेश्वर महादेव मंदिर के प्रांगण में पहुँच गए। जहाँ भगवान राम का स्वरूप मानकर पीपल और देवी सीता के स्वरूप मे गूलर के बृक्ष का मंत्रोच्चार के साथ पाणिग्रहण कराकर उनका रोपण किया।
जगद्गुरु ने कहा कि दुख हमेशा अच्छे कार्य करने को प्रेरित करता है। जबकि सुख भोग विलास की ओर ले जाता है। इसलिए दुख से घबराना और सुख पर घमंड नहीं करना चाहिए। जीवन की असली गति मृत्यु ही है। जिसे गृहस्थ में मृत्यु मानते हैं, वही संन्यास में मुक्ति कहा जाता है। जो अटल सत्य है उससे घबराने,डरने या दुखी होने से क्या फायदा। उन्होंने कहा कि सत्कर्म की राह पर सदैव चलते रहिए। इसी एक सूत्र पर ही जीवन का मोक्ष टिका हुआ है।
श्री महराज ने दोनों बृक्षो का पाणिग्रहण कराते हुए कहा कि आज भगवान राम के विवाह का पवित्र तिथि है। सनातन धर्म बृक्ष में देवी और देवता वास मानता रहा है। आज इसे विज्ञान भी साबित कर बता रहा है कि बगैर बृक्ष के पृथ्वी पर जीवन संभव नहीं है। इस लिए हमें हर शुभ या अशुभ सभी अवसरों पर उसकी दीर्घकाल तक स्मृति बनाए रखने के लिए बृक्ष अवश्य लगाना चाहिए। इससे जहाँ प्रकृति का श्रृंगार बढ़ेगा वही हमें निश्शुल्क शुद्ध प्राणवायु भी मिलेगी। इस मौके पर श्रीपाल पांडेय, राम अनंद पाण्डेय, अमरनाथ तिवारी, रायसाहब सिंह, संजय सिंह, श्रीप्रकाश पाण्डेय, जग्गू सिंह, मुरली यादव, अमरनाथ गौतम, लालमनि नाविक, पंडित परमानंद तिवारी, पंडित उमेश दूबे, त्रिलोकीनाथ पाण्डेय समेत तमाम लोग उपस्थित रहे।

Earn Money Online

Previous articleजौनपुर : बेस्ट प्रिंसिपल एवार्ड से नवाजे गये सेंट जेवियर्स शाहगंज के प्रधानाध्यापक
Next articleजौनपुर : समाजवादी विजय यात्रा के मद्देनजर बैठक सम्पन्न
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏