जौनपुर : टीडी कालेज के दो शिक्षक गुटों में चंदे को लेकर हुई मारपीट

जौनपुर : टीडी कालेज के दो शिक्षक गुटों में चंदे को लेकर हुई मारपीट

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
                 टीडी पीजी कालेज में अभी तक दो छात्र गुटों में मारपीट व तनातनी की खबरें आती थी लेकिन बुधवार को पूर्वांचल के इस प्रतिष्ठित कालेज के दो शिक्षक गुट ही आपस में मामूली बात को लेकर भिड़ गये। दोनो पक्षों की बीच जमकर जूतम-पैजार हुआ। दोनो पक्ष थाने पहुंचकर एक दूसरे के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के लिए तहरीर दिया। मामला थाने पहुंचा तो कालेज के करीब एक दर्जन शिक्षक दोनो पक्षों को समझाने बुझाने का प्रयास किया लेकिन नतीजा सिफर निकला। करीब एक घंटे बाद दो पक्षों को थानाध्यक्ष अपने साथ सीओ सिटी के पास ले गये। 28 अक्टूबर को लखनऊ में आयोजित धरना प्रर्दशन में शिक्षकों को जाने के लिए टीडीपीजी कालेज शिक्षक संघ प्रत्येक शिक्षकों से पांच सौ रूपये चंदा एकत्रित किया था।

इस पैसे से वाहनों की व्यवस्था होना था। लेकिन मुख्यमंत्री द्वारा दो मांगे मान लेने के बाद धरना प्रर्दशन स्थगित कर दिया गया। इस बात को लेकर कुछ शिक्षक चंदे में दिए गए रुपये वापस मांगने लगे। इसे लेकर मारपीट हो गई। स्थिति बिगड़ने पर पुलिस को बुलाना पड़ा। लाइन बाजार पुलिस ने दोनों शिक्षकों को थाने पर बुला लिया। मामले को हल न होता देख पुलिस ने दोनों शिक्षकों को डिप्टी एसपी के सामने पेश किया। फिलहाल दोनों शिक्षक अपने-अपने ग्रुप के साथ डिप्टी एसपी जितेंद्र दुबे के सामने पहुंचकर दलील दिए, फिर पुलिस ने दोनों पक्षों को समझाकर मामला शांत कराया। इस बाबत सीओ सिटी जितेंद्र दुबे ने मीडिया को बताया कि चंदा को लेकर विवाद का मामला सामने आया था। जिसको शिक्षकों ने ही आपस में बैठकर सुलझा लिया।
Previous articleजौनपुर : जन विरोधी, गरीब विरोधी एंव किसान विरोधी है डबल इंजन की सरकार- ललई
Next articleजौनपुर : शाहगंज बीआरसी पर आयोजित हुई चुनावी पाठशाला
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏