जौनपुर : डॉ अपरबल का जाना हिंदी जगत की बड़ी क्षति- कुलपति

जौनपुर : डॉ अपरबल का जाना हिंदी जगत की बड़ी क्षति- कुलपति

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
                 वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के कार्य परिषद के पूर्व सदस्य डॉ. अपरबल राम यादव के निधन पर सोमवार को शोक सभा का आयोजन किया गया। इस अवसर पर कुलपति सभागार में दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी गई।इस अवसर पर कुलपति प्रोफ़ेसर निर्मला एस. मौर्य ने कहा कि वह मेरे गुरु भाई थे, उनके निधन से हिन्दी साहित्य जगत को बहुत गहरा आघात लगा है। सबसे बड़ी बात कि उनमें मानवीय गुण ज्यादा था जिसके कारण लोग उनसे जुड़े रहना पसंद करते थे।

इस अवसर पर हिंदी के साहित्यकार डॉ. राम सुथार सिंह ने उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि डॉ. अपरबल राम यादव का हिंदी साहित्य के साथ भाषा विज्ञान पर भी अच्छी पकड़ थी। इस अवसर पर प्रोफेसर मानस पांडेय, प्रो. अविनाश पाथर्डीकर, प्रोफ़ेसर अशोक श्रीवास्तव, प्रो. देवराज सिंह, डॉ मनोज मिश्र, डॉ राजकुमार, डॉ संतोष कुमार, डॉ मनीष कुमार गुप्ता, डॉ सुनील कुमार, डॉ दिग्विजय सिंह राठौर, डॉ. रजनीश भास्कर, डॉ. मिथिलेश यादव, डॉ मंगला प्रसाद यादव, डॉ नितेश जायसवाल, डॉ पीके कौशिक आदि उपस्थित थे।

Earn Money Online

Previous articleजौनपुर : देश को समझने के लिए हिंदी जरूरी- डॉ राम सुधार सिंह
Next articleजौनपुर : सड़क दुर्घटना में तीन लोग घायल
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏