जौनपुर : दूसरे जिले में जाने के लिए वाहनों के ई-पास की अनुमति अनिवार्य

जौनपुर : दूसरे जिले में जाने के लिए वाहनों के ई-पास की अनुमति अनिवार्य

जौनपुर।
फैज़ान अंसारी
तहलका 24×7
                   कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए योगी सरकार की तरफ से प्रदेश में 10 मई तक कारोना क‌र्फ्यू लगा दिया गया है। इसके तहत लोगों को एक जिले से दूसरे जिले में जाने के लिए वाहनों के ई-पास की अनुमति अनिवार्य कर दी गई है। इस बार मैनुअल पास की अनुमति नहीं दी जा रही है। अभी तक जिला प्रशासन की तरफ से ई-पास आवेदन करने वाले 40 लोगों को अनुमति दी गई है। अति आवश्यक सेवाओं को अनुमति लेने की आवश्यकता नहीं होगी।

# इन्हें पास लेने की नहीं है जरूरत…

यूपी सरकार की ओर से एक और आदेश में औद्योगिक गतिविधियों, मेडिकल या आवश्यक सेवाओं की आपूर्ति, आवश्यक वस्तुओं का परिवहन, ई-कामर्स आपरेशंस, आपात चिकित्सा वाले व्यक्ति, दूरसंचार, डाक सेवा, प्रिंट और इलेक्ट्रानिक मीडिया सेवा से जुड़े लोगों को ई-पास लेने की जरूरत नहीं होगी।

# ई-पास आवेदन में लगने वाले अभिलेख..

ई-पास बनवाने के लिए यात्रा करने वाले व्यक्ति या मरीज की फोटो, यात्रा करने वाले व्यक्ति या मरीज का आधार, यात्रा करने वाले व्यक्ति या मरीज का नवीनतम चिकित्सा पर्चा जिसकी साइज 10 केबी से अधिक 100 केबी के अंदर होनी चाहिए एवं फाइल का प्रकार Jpg हो।

# ई-पास के लिए ऐसे करे आवेदन..

ई-पास आवेदन के लिए गूगल की साइट rahat.up.nic.in खोलेंगें। साइट खुल जायेगी, साइट खुलने पर अप्लाई फॉर ई-पास ऑप्शन पर क्लिक करेगे। पहले अपना मोबाइल नंम्बर दर्ज करे। मोबाइल नम्बर दर्ज करने के उपरान्त एक ओटीपी प्राप्त होगी। ओटीपी डालने के उपरान्त फार्म खुल जायेगा। फार्म भरने के उपरान्त स्कैन हुआ फोटो आईडी प्रूफ, डाॅक्टर का पर्चा, कोविड-19 की निगेटिव रिपोर्ट अपलोड करके फार्म को सम्मिट करेगे। फार्म सम्मिट करते ही एक रजिस्टर नंम्बर प्राप्त होगा। फार्म सम्मिट करने के तीन घण्टे बाद आपके मोबाइल पर एप्रुव्ड का मैसेज आयेगा। मैसेज में एक लिंक आयेगा जिस पर क्लिक कर ई-पास डाउनलोड कर प्रिन्ट-आउट निकाला जा सकता है।
Previous articleजौनपुर : ट्रैक्टर की चपेट में आने से पुत्र की दर्दनाक मौत, पिता गम्भीर रूप से घायल
Next articleजौनपुर : पत्रकार को मातृशोक, शोक संवेदना व्यक्त करने वालों का लगा तांता
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏