जौनपुर : दैहिक, दैविक एंव भौतिक तापों से मुक्ति का सहज मार्ग है भागवत कथा

जौनपुर : दैहिक, दैविक एंव भौतिक तापों से मुक्ति का सहज मार्ग है भागवत कथा

खुटहन।
मुलायम सोनी
तहलका 24×7
              क्षेत्र अंतर्गत गुलरा गांव में आयोजित श्रीमद् भागवत कथा ज्ञान यज्ञ में जुटे श्रद्धालुओ को ब्यास पीठ से संबोधित करते हुए उमानंद तिवारी महराज ने कहा कि श्रीमद्भगवत सभी धर्म ग्रंथो में अति प्राचीन है। इसे आस्था एवं विश्वास पूर्वक श्रवण कर लेने मात्र से मानव दैहिक, दैविक और भौतिक, तीनों तापों से मुक्ति पा जाता है। यदि इसमें बताए मार्ग को हम अपने आचरण में समाहित कर लेते हैं तो इहलोक से मुक्ति मिलना तय है।

श्री महराज ने कहा कि चौरासी लाख योनियों में करोड़ों वर्ष तक भटकते रहने के बाद बड़े भाग्य से यह मानव तन मिला है। यह शरीर, सृष्टि निर्माता की सर्वश्रेष्ठ रचना है। पूरे ब्रहमाण्ड में ईश्वर के सबसे नजदीक रहने वाली योनि मानव की है। कड़ी तपस्या के बाद हम यहाँ तक पहुंचे है। अब तो बस थोड़ा सा ही प्रयास और बाकी रह गया है। जिसके बल पर हमारा साक्षात्कार उस परमपिता परमेश्वर से होने वाला है। इस लिए इस स्वर्णिम अवसर को हाथ से मत जाने दीजिए।

उन्होंने कहा कि काम, क्रोध, लोभ, मोह और अंहकार के चक्कर में पड़कर इधर उधर मत भटको। गृहस्थ आश्रम का पालन करते हुए हर सुख, दुख, हानि और लाभ उन्हें ही अर्पित करते चलो। कुछ समय नियमित रूप से उस परमात्मा के स्मरण में लगाओ। भागवत कथा को आत्मसात कर उसे अपने आचरण में शामिल कर लो। फिर स्वयं भगवान दर्शन देने पहुंच जायेगे। इस मौके पर पंडित रामप्यारे दूबे, पंडित अवधेश महराज, मुख्य यजमान विजय शंकर पाण्डेय, चेत नारायण सिंह, श्रीपाल पांडेय, पुरुषोत्तम पाण्डेय, मुन्ना, पिंटू, राजन आदि मौजूद रहे। आयोजक अशोक पाण्डेय डब्लू ने आगंतुको के प्रति आभार प्रकट किया।
Previous articleजौनपुर : संदिग्ध परिस्थितियों में रेल यात्री की मौत
Next articleभारत विकास परिषद के सदस्यों ने किया 39 यूनिट रक्तदान, जरूरतमंदों की जान बचाने का लिया संकल्प
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏