जौनपुर : धनुष टूटते ही जय श्रीराम के जयकारों से गूंजा पंडाल

जौनपुर : धनुष टूटते ही जय श्रीराम के जयकारों से गूंजा पंडाल

शाहगंज।
अनूप जायसवाल
तहलका 24×7
                   बीबीगंज चौकी अंतर्गत गोड़िला फाटक बाजार में श्री बजरंग नवयुवक रामलीला समिति के तीसरे दिन के मंचन के मुख्य अतिथि जिला पंचायत सदस्य तीरथराज गौतम रहे। भगवान भोलेनाथ का आरती के बाद रामलीला का मंचन शुरू किया गया।
क्षेत्र के गोड़िला फाटक बाजार में चल रही रामलीला में बृहस्पतिवार की रात को धनुष यज्ञ, परशुराम-लक्ष्मण संवाद और सीता स्वयंवर की लीला का मंचन किया गया। राजा जनक ने अपनी पुत्री सीता के स्वयंवर का आयोजन किया। इसमें दूर-दूर से राजाओं-महाराजाओं को आमंत्रित किया गया। राजा जनक की शर्त थी कि जो भी राजा भगवान शिव के धनुष को उठाकर उस पर प्रत्यंचा चढ़ाएगा, उसी के साथ सीता जी का विवाह होगा। भगवान श्रीराम व लक्ष्मण महर्षि विश्वामित्र के साथ स्वयंवर में पहुंचते हैं।
धनुष को उठाने के लिए एक से बढ़कर एक ताकतवर राजा आगे आते हैं, लेकिन कोई भी धनुष को उठा नहीं पाता है। इसी बीच लंका का राजा रावण भी वहां पहुंच जाता है और धनुष को उठाने का प्रयास करता है। बाद में आकाशवाणी होने के कारण रावण लौट जाता है। इस पर राजा जनक दुखी होकर स्वयंवर में आए राजाओं से कहते हैं कि यहां कोई ऐसा महारथी नहीं है जो इस धनुष को उठा सके। इस पर लक्ष्मण को क्रोध आ जाता है और उनकी राजा जनक से तीखी नोकझोंक हो जाती है।
बाद में महर्षि विश्वामित्र के कहने पर श्रीराम धनुष को उठाते हैं। इससे जनकपुरी में खुशी की लहर दौड़ जाती है और सीता श्रीराम के गले में वरमाला डाल देती हैं। तभी वहां परशुराम पहुंच जाते हैं और धनुष के टूटने पर क्रोधित होते हैं। इसके बाद लक्ष्मण और परशुराम के बीच संवाद होता है। इसके पश्चात धूमधाम से भगवान राम व सीता का विवाह संपन्न होता है।
इस मंचन के दौरान रामलीला कमेटी के अध्यक्ष रोहित गुप्ता, निर्देशक राजेश गुप्ता, रामशंकर गुप्ता, संतोष गुप्ता, कालीचरण गुप्ता, दुर्गाप्रसाद गुप्ता, सुरेश गुप्ता, पंकज गुप्ता, अनुप श्रीवास्तव, सोनू यादव, शशिकांत विश्वकर्मा, अनूप जायसवाल, सतेंद्र चौहान, विपिन यादव आदि मौजूद रहे।

Earn Money Online

Previous articleजौनपुर : शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी पर फूटा मुसलमानों का गुस्सा
Next articleजौनपुर : सास की डांट से क्षुब्ध विवाहिता ने लगाई फांसी
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏