26.1 C
Delhi
Thursday, April 18, 2024

जौनपुर : नीमा ने मनाया विश्व यूनानी दिवस

जौनपुर : नीमा ने मनाया विश्व यूनानी दिवस

शाहगंज।
रवि शंकर वर्मा
तहलका 24×7
                 राष्ट्रीय यूनानी चिकित्सा संघ के तत्वावधान में शनिवार को नगर के शाहपंजा मोहल्ला स्थित उत्सव वाटिका के सभागार में विश्व यूनानी दिवस का प्रतिष्ठित आयोजन किया गया। नीमा के राष्ट्रीय महासचिव डॉ यूएस पांडेय कार्यक्रम के मुख्य अतिथि रहे वहीं पटना से आये डॉ सैय्यद फजलुल्लाह कादरी एंव डॉ अब्दुल सलाम फलाही विशिष्ट अतिथि रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता नीमा शाहगंज के संरक्षक डॉ इरफान ने किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता की कार्यक्रम के संयोजक डॉ सरफुद्दीन आज़मी रहे।

कार्यक्रम की शुरुआत अतिथियों का स्वागत करने के बाद नीमा शाहगंज के महासचिव डॉ तारिक शेख ने उनकी शाखा के इतिहास पर प्रकाश डालते हुए प्रदर्शन रिपोर्ट और आगे की रणनीति पर प्रकाश डाला। डॉ मेशम अली ने चिकित्सा और हकीम अजमल खान के इतिहास पर प्रकाश डालते हुए कहा कि मासिह-उल-मुल्क हकीम अजमल खान (11 फरवरी) के जन्मदिन के अवसर पर अंतर्राष्ट्रीय यूनानी दिवस राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मनाया जाता है और यह प्रक्रिया फरवरी के पूरे महीने तक जारी रहती है।

विशिष्ट अतिथि ने अपने संबोधन में कहा कि यह हकीम अजमल खान हैं जिन्होंने ब्रिटिश शासन के दौरान यूनानी और आयुर्वेद को जीवित रखने के लिए अभियान चलाया और भारतीय चिकित्सा पद्धति अस्तित्व में आई जो यूनानी और आयुर्वेद का एक संयोजन है। हमारा संगठन हमेशा यूनानी और आयुर्वेद के मुद्दों पर काम करता रहा है और इस संबंध में लगातार प्रयास कर रहा है। इस अवसर पर कोविड-19 के युग में अपने कर्तव्यों का पालन करते हुए जिन डॉक्टरों ने अपनी जान गंवाई उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए दो मिनट का मौन रख कर उन सभी की आत्मा को चिर शान्ति के लिए प्रार्थना की गई।

 

गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज पटना से आये अतिथि सेवानिवृत्त प्रोफेसर ऑल इंडिया यूनानी मेडिकल कांग्रेस के उपाध्यक्ष डॉ फजलुल्लाह कादरी और कई मेडिकल पुस्तकों के लेखक ने अपने विनम्र भाषण में कहा कि एक प्रसिद्ध चिकित्सक के साथ मसीहा-उल-मुल्क हकीम अजीम खान वह एक स्वतंत्रता सेनानी थे। अल्लाह ने उन्हें बहुत कम उम्र दिया। वह केवल 59 वर्ष जीवित रहे। लेकिन उन्होंने यूनानी चिकित्सा पद्धति पर जो काम किया वह अविस्मरणीय है। आज हम उनका जन्मदिन मना रहे हैं, इसलिए हमारी धरोहर की रक्षा करना हमारा कर्तव्य है और प्रयास करें। अपने रोगियों के साथ समझदारी और यूनानी चिकित्सा करें। यह एक बहुत ही सफल ध्येय है। यदि आप पूर्ण यूनानी नहीं करते हैं, तो यूनानी और अंग्रेजी दवा के संयोजन से इलाज करें और अपने पर्चे में यूनानी चिकित्सा को शामिल करना सुनिश्चित करें।

 

पटना से अन्य सम्मानित अतिथि डॉ अब्दुल सलाम फलाही ऑल इंडिया ग्रीक मेडिकल कांग्रेस, बिहार प्रांत के अध्यक्ष ने अपने संबोधन में कहा कि डॉ अब्दुल सलाम फलाही ने यूनानी चिकित्सकों से एक अच्छी तरह से स्थापित करने की अपील की। चिकित्सा चिकित्सा अस्पताल में उन्होंने कहा कि यूनानी चिकित्सा हमारी भाषा और हमारी संस्कृति से संबंधित है और यह उपचार का एक प्राकृतिक तरीका है। हमने नियमित चिकित्सा शिक्षा प्राप्त की है। सरकार ने हमें इस मार्ग के तहत पंजीकरण कराया है, इसलिए हम ऐसा नहीं करते हैं। इस प्राकृतिक उपचार को अपनाएं और हमारी विरासत की रक्षा करें। डॉ मुहम्मद अमजद ने एक कविता और चिकित्सा के प्राकृतिक नुस्खे प्रस्तुत किए। इस अवसर पर, अतिथि डॉ फजलुल्लाह कादरी की पुस्तक “अल-मुफ़रदत” का विमोचन किया गया।

कार्यक्रम के अंत में सभी अतिथियों को स्मृतिचिन्ह, अंगवस्त्र देकर सम्मानित किया गया। सभी लोगों को धन्यवाद देते हुए संगठन के अध्यक्ष डॉ दुर्गेश तिवारी ने सभी का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम में आसपास के क्षेत्रों के कई डॉक्टरों ने भाग लिया, विशेष रूप से सरायमीर आज़मगढ़ के डॉ मुहम्मद साकिब, फूलपुर आज़मगढ़ के डॉ फैयाज़ अहमद अलीग, डॉ राशिद, डॉ नईम अहमद, डॉ ज़िया आलम, डॉ हारून खान ज़हरी, जौनपुर नीमा सचिव डॉ हसन अली और खेतासराय व मानीकलां के चिकित्सकों ने कार्यक्रम में भाग लिया। नीमा के कार्यकारिणी के अलावा आयोजन समिति के सदस्य विशेष रूप से डॉ जेपी सेठ, डॉ मौन मोहम्मद, डॉ खुर्शीद आलम, डॉ अटल यादव, डॉ मोहम्मद हामिद, डॉ नदीम अहमद खान आदि ने अपनी सहभागिता दर्ज कराई।
Feb 22, 2021

तहलका संवाद के लिए नीचे क्लिक करे ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓ ↓

लाईव विजिटर्स

37020086
Total Visitors
219
Live visitors
Loading poll ...

Must Read

Tahalka24x7
Tahalka24x7
तहलका24x7 की मुहिम..."सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... ?

बीएसए के अनुमोदन पर प्रधानाध्यापक का निलंबन तय 

बीएसए के अनुमोदन पर प्रधानाध्यापक का निलंबन तय  सुइथाकला, जौनपुर।  तहलका 24x7               शिक्षा के क्षेत्र में...

More Articles Like This