जौनपुर : पुलिस की मौजूदगी में दबंगों ने ढहाया आशियाना, उठा ले गये गृहस्थी का सामान

जौनपुर : पुलिस की मौजूदगी में दबंगों ने ढहाया आशियाना, उठा ले गये गृहस्थी का सामान

# पीड़ित ने पुलिस अधीक्षक से लगाई न्याय की गुहार

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
             पुलिस की कार्य प्रणाली पर हमेशा ही सवालिया निशान लगता रहता है, इसी क्रम में शाहगंज कोतवाली की कार्य प्रणाली पर एक बार फिर सवालिया निशाना लग गया है। कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत नटौली पीड़ित मेवालाल यादव पुत्र स्व. राम कुबेर यादव ने पुलिस अधीक्षक को प्रार्थना पत्र देकर गुहार लगाई है।

पीड़ित द्वारा रजिस्टर्ड डाक से पुलिस अधीक्षक अजय साहनी को भेजे गए शिकायती पत्र के मुताबिक उसी के गाँव निवासी सुरेन्द्र यादव, प्रमेंद्र यादव पुत्र सिया राम यादव, आदर्श यादव पुत्र सुरेन्द्र यादव, सियाराम यादव पुत्र अछैबर यादव, घनश्याम यादव, पुत्र राम नारायण यादव, अमरजीत यादव उर्फ मियां पुत्र स्व. लाल बहादुर यादव, फतेबहादूर यादव पुत्र मुन्नी लाल यादव, कलावती देवी पत्नी सियाराम यादव तथा अन्य 4-5 की संख्या में गत 28 जुलाई की दोपहर लगभग 3 बजे इकठ्ठे होकर आए और मेरा टीन का सेड गिराने के पश्चात उसमें रखी लकड़ी की चौकी, बिस्तर, जानवरों को खाने वाली हौदी उठा कर जानें लगे विरोध करने पर लाठी डंडे से मारने व माँ बहन की भद्दी भद्दी गालियाँ देने लगे।
मौके पर पहुंची पुलिस के सामने ही टीन सेड गिरा दिए और दारोगा के साथ अन्य पुलिसकर्मी खड़े देखते रहे। दबंग ने पुलिस के सामने ही मुझे तथा मेरे परिवार को जान से मारने की धमकी देते रहे मगर पुलिस मूकदर्शक बनी रही। पीड़ित जब दबंगों के खिलाफ शाहगंज कोतवाली में प्राथमिकी दर्ज कराने गया तो पुलिसकर्मियों ने अभद्रता करते हुए सादे कागज़ पर जबरदस्ती हस्ताक्षर करा कर भगा दिया।
उसके कुछ दिन बाद फिर से दबंगों द्वारा मुझे जान से मारने की धमकी दी जाने लगी, जब मैं दोबारा कोतवाली रिपोर्ट लिखवाने गया तो मुझे गालियां देते हुए भगा दिया गया। दस दिन कोतवाली शाहगंज का चक्कर लगाने के बाद थक हार कर गत 12 अगस्त को पीड़ित ने अपनी व्यथा शिकायती पत्र के माध्यम से रजिस्टर्ड डाक से पुलिस अधीक्षक को सूचित कर न्याय की गुहार लगायी है।
अब ऐसे में कुछ सवाल उठते है कि एक तरफ़ कुछ पुलिस वाले अपने कार्य कुशलता, निष्पक्षता, संवेदनशीलता एंव कर्तव्यपरायणता के कारण मुख्यमंत्री, राज्यपाल आदि द्वारा सम्मान प्राप्त कर रहे वहीं जनता के बीच भी इज्जत पा रहे हैं वही कुछ पुलिसकर्मियों की कार्यशैली उनकी छवि धूल धूसरित हो रही है।
Previous articleजौनपुर : सावन के आखिरी सोमवार को त्रिपुरारी के भक्तों की उमड़ी भीड़
Next articleजौनपुर : लायन्स क्लब जौनपुर क्षितिज का शपथ ग्रहण समारोह सम्पन्न
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏