जौनपुर : पूर्व का बीमारू प्रदेश अब बन चुका है उत्तम प्रदेश- कामेश्वर सिंह

जौनपुर : पूर्व का बीमारू प्रदेश अब बन चुका है उत्तम प्रदेश- कामेश्वर सिंह

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
            भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा जिला स्तरीय किसान सम्मेलन का आयोजन जिलाध्यक्ष द्वय नरेन्द्र उपाध्याय एव प्रहलाद यादव के अध्यक्षता में किया गया। बतौर मुख्य अतिथि भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष कामेश्वर प्रसाद सिंह ने कहा कि भाजपा सरकार ने किसानों के लिए जो कर दिखाया है, वह इससे पहले की कोई सरकार नहीं कर पाई थी।यूपी में योगीजी की प्रभावी प्रशासनिक व्यवस्था से आतंकवाद, अराजकता, अपराध और बेरोजगारी का खात्मा हुआ है। उन्होंने कहा कि पहले पश्चिम उत्तर प्रदेश में कुछ लोगों ने उत्पात कर सीधे-साधे लोगों को पलायन को मजबूर किया था, कितु प्रदेश में योगी जी की सरकार बनने के बाद से अत्याचारी ही पलायन करने लगे हैं। उन्होंने आगे कहा कि देश में कोई किसान आंदोलन नहीं चल रहा था, जो लोग धरने पर बैठे थे वह सारे लोग संगठन के कार्यकर्ता थे, इसको न तो किसानों का समर्थन था, न देश के आम नागरिकों का, देश के किसानों को गुमराह करने के लिए विपक्षी दलों के लोग प्रयास कर रहे थे, जिसका सपोर्ट कोई नहीं कर रहा था।

उन्होंने आगे कहा कि राज्य सरकार ने गन्ना किसानों के हित में गन्ना मूल्य में वृद्धि का निर्णय लिया है 325 रुपये प्रति कुन्तल के गन्ने का गन्ना मूल्य बढ़ाकर 350 रुपये प्रति कुन्तल, 315 रुपये प्रति कुन्तल के सामान्य गन्ने का गन्ना मूल्य 340 रुपये प्रति कुन्तल तथा अनुपयुक्त गन्ने के गन्ना मूल्य में 25 रुपये प्रति कुन्तल वृद्धि की गई। गन्ना मूल्य में इस वृद्धि से प्रदेश के 45 लाख गन्ना किसानों की आय में 08 प्रतिशत की अतिरिक्त बढ़ोत्तरी हुई।जिलाध्यक्ष रामविलास पाल ने कहा कि अन्नदाता किसान कठिन परिश्रम करके अन्न पैदा करता है, अन्न जीवन चक्र का आधार है किसान द्वारा अपने परिश्रम और पुरुषार्थ से बिना भेदभाव के सभी के लिए अन्न उत्पन्न करना पुण्य का कार्य है। पूर्व जिलाध्यक्ष ब्रह्मदेव मिश्र ने कहा कि वर्ष 2014 में नरेन्द्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने पर देश का भाग्योदय हुआ प्रधानमंत्री के नेतृत्व की सरकार ने गांव, गरीब, नौजवान, महिलाओं तथा समाज के सभी तबकों के लिए कार्य किया। धरती माता की सेहत का ध्यान रखा जा सके, इस उद्देश्य से उन्होंने मृदा स्वास्थ्य कार्ड जारी किया, कृषकों के हित और कल्याण के लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, प्रधानमंत्री सिंचाई योजना जैसी योजनाएं संचालित की गयीं, वर्ष 2017 में वर्तमान राज्य सरकार के सत्ता में आने के बाद पहला निर्णय प्रदेश के 86 लाख लघु एवं सीमान्त किसानों का 36 हजार करोड़ रुपये का ऋण माफ करने का लिया गया।

विशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित सुनील पटेल ने कहा कि अन्नदाता किसान के खुशहाल होने से राज्य प्रगति और समृद्धि के मार्ग पर अग्रसर होता है, इस उद्देश्य से वर्तमान राज्य सरकार ने बिचौलियों को समाप्त कर सीधे किसानों से उनके कृषि उत्पादों की खरीद के लिए अप्रैल, 2017 में प्रोक्योरमेन्ट पॉलिसी लागू की विगत साढ़े चार वर्षाें में प्रदेश में किसानों से रिकॉर्ड मात्रा में उनके कृषि उपज की खरीद की गयी है। जिलाध्यक्ष नरेन्द्र उपाध्याय ने कहा कि वर्ष 2017 में वर्तमान सरकार के सत्ता में आने पर पूर्ववर्ती सरकारों के कार्यकाल का वर्ष 2009-10 से लेकर वर्ष 2018-19 तक का किसानों का गन्ना मूल्य भुगतान बकाया था। इससे गन्ने का रकबा सिकुड़ता जा रहा था वर्तमान सरकार ने गन्ना किसानों के हित में बन्द चीनी मिलों का संचालन प्रारम्भ कराया। जिलाध्यक्ष प्रह्लाद यादव ने अध्यक्षीय भाषण देते हुए कहा कि प्रदेश वासियों को निःशुल्क खाद्यान्न एवं वैक्सीन उपलब्ध कराने के लिए प्रधानमंत्री के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि राज्य ने अब तक 10 करोड़ से अधिक कोरोना वैक्सीन की खुराक उपलब्ध कराने में सफलता प्राप्त की है, इससे प्रदेश में कोरोना का संक्रमण समाप्त प्राय हो गया है।

कार्यक्रम का संचालन जिला महामंत्री सुदर्शन सिंह ने किया। उक्त अवसर पर जिला महामंत्री अजय सिंह, राजेन्द्र श्रीवास्तव, मेहीलाल गौतम, पूर्व जिला उपाध्यक्ष नृपेंद्र सिंह, जिला उपाध्यक्ष बृजेश सिंह, पूर्व राष्ट्रीय कार्यसमिति सदस्य किसान मोर्चा अरविन्द सिंह, जिला मंत्री जयेश सिंह, श्याम दत्त दुबे, जिला मीडिया प्रभारी आमोद सिंह, क्षेत्रीय मन्त्री सुनील सिंह, अर्चना शुक्ला, संदीप सिंह, जिला महामंत्री किसान मोर्चा इन्द्रसेन सिंह, प्रदीप यादव, सुर्दशन सिंह, रमेश दुबे, जिला उपाध्यक्ष नीरज मौर्या, राहुल दुबे, लक्ष्मीकांत मिश्रा, पंकज सिंह, शैलेन्द्र सिंह, शौरभ दुबे, पंकज सिंह, ज्ञानचन्द्र मौर्य, जिला मंत्री किसान मोर्चा अनिल सिंह शक्ति, सुनील सिंह, रमेश सिंह, राजेश यादव, संदीप द्विवेदी मण्डल अध्यक्ष गण शीतला प्रसाद मौर्य, प्रभा शंकर सिंह, सुभाष पाल, सत्येंद्र दुबे, विनोद कुमार तिवारी, कमलेश पटेल, विकास पांडे, रविकांत सिंह, जयप्रकाश मिश्र, मनोज सिंह, जयशंकर प्रसाद सिंह, अनिल सिंह, रमेश पटेल, राजेश्वर राम, प्रदीप प्रधान पासी, संजय पांडे, संदीप प्रजापति, अरुण शर्मा आदि कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Earn Money Online

Previous articleजौनपुर : पुरानी पेंशन बहाली सहित लंबित मांगो के लिए कलेक्ट्रेट परिसर में गरजे शिक्षक
Next articleजयसिंह व्यथित की रचनाओं में है पीड़ित मानव समाज की व्यथा- साहित्येन्दु
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏