जौनपुर : प्रतियोगी परीक्षा में प्रश्नों के चयन के दिए टिप्स

जौनपुर : प्रतियोगी परीक्षा में प्रश्नों के चयन के दिए टिप्स

# प्लेसमेंट सेल में हुई कंट्रोल सिस्टम की बारीकियों पर की चर्चा

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
                  वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय जौनपुर के केंद्रीय ट्रेनिंग और प्लेसमेंट सेल द्वारा शुक्रवार को इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रॉनिक्स कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग एवं इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इंस्ट्रूमेंटेशन इंजीनियरिंग के द्वितीय, तृतीय एवं चतुर्थ वर्ष के छात्रों के लिए “कंट्रोल सिस्टम” विषय पर ऑनलाइन वेबीनार का आयोजन किया गया।

वेबीनार में मुख्य वक्ता के रूप में एस इंजीनियरिंग एकडेमी के विषय विशेषज्ञ एवं आईआईटी मुंबई के पूर्व छात्र अनीश सिंह राजपूत ने छात्रों को कंट्रोल सिस्टम विषय की बारीकियों से अवगत करायाI उन्होंने फरवरी माह में होने वाली गेट की परीक्षा तथा जून माह में होने वाली इंडियन इंजीनियरिंग सर्विसेज की परीक्षा के लिए छात्रों को सावधानी पूर्वक प्रश्नोत्तर चयन करने के टिप्स दिए। श्री राजपूत ने छात्रों को कंट्रोलर एवं कंपनसेटर के अंतर से परिचित कराया तथा बताया कि क्लोज लूप सिस्टम और ओपन लूप सिस्टम की बैंडविथ, सेंसटिविटी और स्टेबिलिटी को कैसे परखते हैं। उन्होंने बताया कि भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन यानी इसरो की परीक्षा में इस विषय से काफी अधिक प्रश्न पूछे जाते हैंI

श्री राजपूत ने भारतीय इंजीनियरिंग सेवा परीक्षा में इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग विषय से 19वां स्थान प्राप्त किया है तथा गेट परीक्षा को 9 बार क्वालीफाई किया है I केंद्रीय ट्रेनिंग और प्लेसमेंट के समन्वयक डॉ संदीप कुमार सिंह ने श्री राजपूत का परिचय कराया तथा वेबीनार में भाग लेने वाले सभी छात्रों एवं एस एकेडमी के तकनीकी प्रबंधक अंकुर बंसल को धन्यवाद ज्ञापित किया। उन्होंने अवकाश होने के बावजूद वेबीनार में 148 छात्रों की भागीदारी पर हर्ष व्यक्त किया। वेबीनार में प्लेसमेंट सेल के प्रभारी श्याम त्रिपाठी, नितिन यादव, सूर्यकांत अस्थाना, सुशांत, अजय से विशेष सहयोग प्राप्त हुआ।

Earn Money Online

Previous articleजौनपुर : मानदेय की मांग को लेकर आशाकर्मियों का जमकर प्रदर्शन
Next articleजौनपुर : शाखा ट्रांसफर को लेकर ग्रामीणों में बढ़ा आक्रोश
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏