जौनपुर : प्रधानमंत्री आयुष्मान योजना की सूची में 70 फीसदी अपात्रों के नाम

जौनपुर : प्रधानमंत्री आयुष्मान योजना की सूची में 70 फीसदी अपात्रों के नाम

# सभासदों ने जांच के लिए एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

शाहगंज।
रवि शंकर वर्मा
तहलका 24×7
                सरकार गरीबों के लिए चाहे जितनी भी कल्याणकारी योजनाएं बना ले मगर ज़मीनी हकीकत कुछ अलग ही है। योजना के क्रियान्वयन में लगे कर्मी उसमें पलीता लगाने से बाज नहीं आ रहे हैं। ताजा प्रकरण शाहगंज नगर क्षेत्र का प्रकाश में आया है। जहां आयुष्मान भारत जन आरोग्य योजना की सूची में 70 फीसदी अपात्रों का नाम दर्ज होने का सभासदों ने दावा किया है। स्थानीय सभासदों ने कार्यदायी संस्था पर गम्भीर आरोप लगाते हुए एसडीएम राजेश कुमार वर्मा को ज्ञापन सौंपा।

सौंपे गए ज्ञापन के मुताबिक आयुष्मान भारत जन आरोग्य के सूची के सत्यापन कराने एवं पात्रों को उनका हक दिलाने की मांग की गई है। उक्त योजना के लिए एक कार्यदायी संस्था को लिस्ट तैयार करने की जिम्मेदारी दी गई थी। कार्यदायी संस्था ने सन 2011 की जनगणना के अनुसार बंद कमरे में ही बैठकर ऐसी लिस्ट बनाई गई जिसमें 874 लोग ऐसे हैं जो इस योजना के अपात्र हैं। जिनके विषय में वार्ड के सदस्यों को भी कुछ पता नहीं है।
उनका नाम-पता सब गलत है। जिसका संज्ञान लेकर स्थानीय सभासदों ने उप जिलाधिकारी राजेश कुमार वर्मा को ज्ञापन सौंपते हुए यह मांग की है कि आयुष्मान भारत जन आरोग्य की सूची का सत्यापन कराएं। जिससे वास्तविक जरूरतमंद को इसका लाभ मिल सके। वहीं पात्र लाभार्थियों की पहचान कराकर उनके खातें में दिव्यांग पेंशन, विधवा पेंशन, वृद्धा पेंशन, आयुष्मान योजना आदि सभी सरकारी सुविधा के तहत मिलने वाली धनराशि का स्थानांतरण करायें।

इस अवसर पर प्रमुख रूप से गणेश चौहान, अनुराग मिश्रा, अर्पित जायसवाल, सुनील कुमार अग्रहरि, राम प्रसाद मोदनवाल, अखिलेश यादव, कृष्ण कांत सोनी, राम दवर, फैजा़न अहमद, उमेश अग्रहरि, विजय जायसवाल आदि सभासद व प्रतिनिधि उपस्थित रहे।
Previous articleपरीक्षा में सफल छात्र “कुबा अचीवमेंट अवार्ड” से सम्मानित
Next articleजौनपुर : मंदिर से घंटा व दानपेटी का पैसा चोरी
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏