जौनपुर : फर्जी मुकदमों से आजिज कर धर्मांतरण के लिए विवश

जौनपुर : फर्जी मुकदमों से आजिज कर धर्मांतरण के लिए विवश

# धर्मांतरण के लिए भुक्तभोगी ने किया पीएम, सीएम एवं डीजीपी को ट्विट

शाहगंज।
रवि शंकर वर्मा
तहलका 24×7
                क्षेत्र के सबरहद गांव निवासी एक परिवार झूठे मुकदमें में फंसाए जाने एवं न्याय न मिल पाने के कारण धर्मांतरण करने को विवश हो गया है। पीड़ित परिवार ने प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री एवं पुलिस महानिदेशक के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर धर्मांतरण करने की बात कह कर न्याय व कानून पर सवालिया निशान लगा दिया है।सबरहद गांव निवासी नागेश कुमार श्रीवास्तव ने गांव के स्वजातीय व्यक्ति पर आरोप लगाया है कि वह उनको और उनके परिवार को झूठे मुकदमें में फंसा कर प्रताड़ित कर रहे हैं। इसलिए झूठे मुकदमें से पूरा परिवार व्यथित है। इसलिए आजिज आकर धर्मांतरण का मन बना चुका है। इसी मद्देनजर पीड़ित ने प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री एवं पुलिस महानिदेशक को ट्विट कर जानकारी दी है।

बताते चलें कि सप्ताह भर पूर्व रामलीला के चंदा को लेकर हुए विवाद में मनबढ़ों ने पीड़ित के भाई द्रोण श्रीवास्तव, भाभी सुशीला देवी और भतीजे रजनीश को पीटकर घायल कर दिया था। जिसमें द्रोण श्रीवास्तव गम्भीर रूप से घायल होने के कारण जिला चिकित्सालय रेफर हो गये थे। इस प्रकरण में पुलिस ने दोनों पक्षों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया। पीड़ित का आरोप है कि कोतवाली पुलिस मनबढ़ों के दबाव में हम पीड़ितों पर फर्जी मुकदमा दर्ज कर प्रताड़ित कर रही है।मामले में प्रभारी निरीक्षक सुधीर कुमार आर्या ने बताया कि मामला संज्ञान में आया है। जिसकी जांच करायी जा रही है। मारपीट की घटना में दोनों पक्षों की तहरीर पर केस दर्ज कर जांच की जा रही है।

Earn Money Online

Previous articleप्रधानमंत्री ने किया जौनपुर मेडिकल कॉलेज का वर्चुअल लोकार्पण
Next articleजौनपुर : ट्रक से कुचलकर बीए की छात्रा की दर्दनाक मौत
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏