जौनपुर : बरामद किशोरी संदिग्ध परिस्थितियों में घर से हुई लापता

जौनपुर : बरामद किशोरी संदिग्ध परिस्थितियों में घर से हुई लापता

# पीड़ित परिजनों ने आरोपितों पर ही पुनः किशोरी को गायब करने का लगाया आरोप

सुरेरी।
दीपक श्रीवास्तव
तहलका 24×7
               स्थानीय थाना क्षेत्र के जगदीशपुर गांव निवासी एक किशोरी बीते 17 अक्टूबर को संदिग्ध परिस्थितियों में घर से गायब हो गई थी। वहीं पीड़ित परिजनों ने काफी खोजबीन के बाद गांव के ही तीन नामजद लोगों के खिलाफ नाबालिग पुत्री को बहला फुसलाकर गायब करने का आरोप लगाते हुए लिखित तहरीर दिया था।

वहीं पुलिस तभी से मामले के लीपापोती में जुटी हुई थी। लेकिन मामला उच्चाधिकारियों के संज्ञान में आने के बाद बीते 21 अक्टूबर को पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ संबंधित धारा में मुकदमा दर्ज कर अपने जिम्मेदारियों की इतिश्री कर ली। तभी से सभी आरोपित फरार चल रहे थे और पुलिस उन्हें गिरफ्तार भी नहीं कर पाई। पीड़ित परिजनों के काफी प्रयास के बाद उन्हें यह पता चला चला कि लापता किशोरी विशाखापट्टनम में आरोपित के साथ ही रह रही है, वही मुख्य आरोपित के पिता को जब पुलिस हिरासत में लेकर कड़ाई से पूछताछ किया तो यह पता चला कि लापता किशोरी विशाखापट्टनम में ही है।

पुलिस द्वारा बनाए गए दबाव के बाद आरोपित द्वारा किशोरी को विशाखापट्टनम के नारी निकेतन में किशोरी को पहुंचा दिया गया। वहीं सूचना पर पीड़ित परिजन स्थानीय पुलिस के साथ विशाखापट्टनम के नारी निकेतन पहुंचे जहां पर किशोरी को उसके परिजनों को बीते 22 दिसंबर को सौंप दिया गया। वही पीड़ित परिजन बीते 1 जनवरी को किशोरी को लेकर अपने घर पहुंचे, वहीं पुलिस ने 2 जनवरी को किशोरी का 161 का बयान दर्ज किया और 3 जनवरी को कोर्ट में 164 के बयान दर्ज कराने के लिए पुलिस द्वारा किशोरी को थाने पर बुलाया गया।

लेकिन 3 जनवरी की भोर में ही उक्त किशोरी पुनः संदिग्ध रूप से घर से लापता हो गई। परिवार के लोगों ने काफी खोजबीन किया लेकिन जब कहीं कुछ पता नहीं चला तो उन्होंने पुनः सुरेरी थाने पर पहुंचकर आरोपितो के ही खिलाफ किशोरी को गायब करने का आरोप लगाते हुए लिखित तहरीर दी। पीड़ित परिजनों का आरोप है कि आरोपितों को अब यह भय सताने लगा है कि किशोरी के बयान के बाद अब स्थानीय पुलिस उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करेगी। जिसके भय से आरोपितों द्वारा किशोरी को पुनः संदिग्ध रूप से गायब कर दिया गया। वही तहरीर के आधार पर पुलिस आवश्यक कार्रवाई में जुटी हुई है। इस संदर्भ में थानाध्यक्ष सुरेरी राज नारायण चौरसिया ने बताया कि तहरीर मिली है जांच कर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी और पीड़िता के 161 के बयान की भी अनभिज्ञता जताई ।

Earn Money Online

Previous articleजौनपुर : मिर्जा अनवर बेग इंटर कॉलेज के दो छात्र इंस्पायर एवार्ड के लिए चयनित
Next articleजौनपुर : हाईकोर्ट के निर्देश पर जिला जज ने जारी की कोविड-19 गाइडलाइंस
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏