जौनपुर : बाहुबली पूर्व सांसद धनंजय सिंह की पत्नी ने पंचायत चुनाव में किया नामांकन

जौनपुर : बाहुबली पूर्व सांसद धनंजय सिंह की पत्नी ने पंचायत चुनाव में किया नामांकन

# पत्नी कलेक्ट्रेट में कर रहीं थीं नामांकन, पुलिस ने एसपी के नेतृत्व में घर पर की छापेमारी

# पूर्व सांसद के घर पर न मिलने से बैरंग लौटी पुलिस

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
                त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में पहले चरण में नामांकन के पहले दिन ही आज जौनपुर में पूर्व सांसद बाहुबली धनंजय सिंह की पत्नी ने सिकरारा विकास खण्ड के वार्ड 45 से जिला पंचायत सदस्य पद हेतु नामांकन दाखिल कर जहां राजनीतिक गलियारे में हलचल मचा दी तो वहीं पुलिस ने उसी समय पूर्व सांसद की तलाश में उनके कालीकुत्ती स्थित घर पर छापेमारी भी की, पर वे घर पर नहीं मिले और पुलिस को बैरंग लौटना पड़ा। हाल ही में जेल से जमानत पर छूटे बसपा के पूर्व सांसद बाहुबली धनंजय सिंह की पत्नी श्रीकला धनंजय सिंह रेड्डी ने आज कलक्ट्रेट पहुंचकर परिसर के कोर्ट न 14 में सिकरारा विकास खंड के वार्ड 45 से जिला पंचायत सदस्य पद हेतु अपना नामांकन दाखिल किया।


श्रीमती श्रीकला धनंजय सिंह रेड्डी के नामांकन दाखिल करने के समय उनके साथ एक प्रस्तावक व एक अधिवक्ता सहित एमएलसी बृजेश सिंह प्रिंशु भी मौजूद रहे। पूर्व सांसद की पत्नी ने क्षेत्र के विकास का किया वादा और कहा कि जनता की सेवा करना ही हमारा उद्देश्य है। सीआरओ /रिटर्निंग आफिसर राजकुमार द्विवेदी की मौजूदगी में नामांकन प्रक्रिया संपन्न कराई गई। उधर जब पूर्व पूर्व सांसद धनंजय सिंह की पत्नी कलेक्ट्रेट में अपना नामांकन दाखिल कर रहीं थीं तो उसी समय जौनपुर के एसपी सिटी डाॅ संजय सिंह के नेतृत्व में भारी पुलिस बल ने धनंजय सिंह की तलाश में उनके कालीकुत्ती स्थित घर पर छापा मारा परंतु धनंजय सिंह के वहां न मिलने पर पुलिस को खाली हाथ बैरंग बैरंग वापस लौटना पड़ा।


पुलिस ने यह छापेमारी लखनऊ में हुए अजीत सिंह हत्‍याकांड में पूर्व सांसद धनंजय सिंह के आरोपी होने के चलते उनकी तलाश में की। छापेमारी के लिए धनंजय सिंह के काली कुत्ती आवास पर आधा दर्जन गाड़ियों से फोर्स पहुंची थी। बताते चलें कि पूर्व सांसद की पत्नी इससे पहले श्रीकला धनंजय सिंह रेड्डी ने जौनपुर की मल्हनी विधानसभा सीट के उपचुनाव में भी पर्चा दाखिल किया था लेकिन बाद में उन्‍होने अपना नामांकन वापस ले लिया था। गौरतलब है कि हाल ही में धनंजय सिंह ने आत्‍मसमर्पण किया था। कुछ दिन पहले कोर्ट से जमानत मिलने के बाद वह गुपचुप ढंग से रिहा हो गए थे। हालांकि थोड़ी देर बाद ही‌ पुलिस ने बताया कि उसने धनंजय सिंह को रिमांड पर लेने के लिए वारंट भी भेजा था जो शायद देरी से जेल पहुंचा।

# रिहा होते ही भूमिगत हुए पूर्व सांसद धनंजय सिंह…

अजीत हत्याकांड में आरोपी बनाये गये पूर्व सांसद धनंजय सिंह जिस मामले में पुरानी जमानत कटाकर प्रयागराज में हाजिर हुए थे, उसी मामले में वह फिर से जमानत पाकर फतेहगढ़ जेल से बुधवार दोपहर रिहा हो गये। वह दोपहर में ही गुपचुप तरीके से अपने समर्थकों के साथ निकल गये। इसकी खबर मिलते ही पुलिस के होश उड़ गये। पुलिस ने बुधवार को ही अजीत हत्याकांड में धनंजय को रिमांड पर लेने के लिये वारंट बी फतेहगढ़ जेल भेजा था। पुलिस का कहना है कि धनंजय सिंह की तलाश जारी है, अजीत सिंह की हत्या के मामले में वह अभी भी आरोपी हैं।
Apr 03, 2021

Previous articleजौनपुर : नामंकन के लिए दिन भर लगी रही भीड़
Next articleसुल्तानपुर : वेदों की जानकारी हर परिवार को होनी चाहिए- राजेंद्र प्रसाद आर्य
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏