जौनपुर : बेअंदाज दारोगा के आंतक से हलकान हैं क्षेत्रवासी

जौनपुर : बेअंदाज दारोगा के आंतक से हलकान हैं क्षेत्रवासी

# कप्तान से शिकायत करने वाले व्यापारियों को चिन्हित कर दारोगा कर रहा है प्रताड़ित

# पुलिस विभाग की भद्द पिटवाने से दारोगा नहीं आ रहा है बाज

बीबीगंज। 
दीपक जायसवाल 
तहलका 24×7
              योगी आदित्यनाथ की सरकार ने प्रदेश में कानून व्यवस्था मजबूत करने और समाज से जुड़ाव बनाने के उद्देश्य पुलिस मित्र योजना शुरु की थी जिससे पुलिस की छवि में सुधार हो सके और लोग निर्भीक होकर पुलिस से मित्रवत व्यवहार रख सकें लेकिन कुछ पुलिसकर्मी इतने बेअंदाज होते हैं कि वह अपनी कार्यशैली से पुलिस विभाग की भद्द पिटवाने से बाज नहीं आते हैं। इसका ताजा उदाहरण शाहगंज कोतवाली अंतर्गत बीबीगंज पुलिस चौकी पर तैनात चौकी प्रभारी की कार्यशैली है।

लगभग साल भर से बीबीगंज पुलिस चौकी पर जमे दारोगा ओमप्रकाश वही चर्चित दारोगा हैं जिनका कोरोना काल में बीबीगंज बाजार वासियों ने लॉकडाउन के दौरान नग्न तांडव झेला था। कोरोना गाइडलाइंस के अनुपालन के नाम पर व्यापारियों का जमकर उत्पीड़न किया था।

स्थानीय व्यापारी बताते हैं कि जिस व्यापारी ने दारोगा की कार्यशैली का जरा सा भी विरोध किया तो उसकी शामत आ जाती है। बेलौस अपशब्दों का प्रयोग एंव फर्जी मुकदमे में फंसाकर जीवन बर्बाद करने की धमकी साहेब का तकिया कलाम है। वीकेंड कर्फ्यू के दौरान वह व्यापारी ज्यादा परेशानी में रहते हैं जिनका मकान और दुकान एक में ही है। वीकेंड कर्फ्यू के दौरान जिस व्यापारी का दरवाजा जा खुला रहता है उसे अपने परिजनों की मौजूदगी में भद्दी-भद्दी गालियां सुनकर शर्मसार होना पड़ता है।

दारोगा के उत्पीड़न से आक्रोशित सैकड़ों बाजार वासियों ने पुलिस अधीक्षक को शिकायती पत्र भेजकर न्याय की गुहार लगायी थी। शिकायती पत्र पर जिन लोगों ने हस्ताक्षर किया था अब उन लोगों को बेअंदाज दारोगा के कोप भाजन का शिकार होना पड़ रहा है और उन्हें चिन्हित कर फर्जी मुकदमे में फंसाकर जीवन बर्बाद करने की धमकी के साथ-साथ भद्दी-भद्दी गालियां सुनने को मिल रही है। फिलहाल अब बाजार वासियों ने सैकड़ों की संख्या में हस्ताक्षरित शिकायत पत्र मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भेज कर न्याय की गुहार लगायी है। अब देखना होगा कि उक्त चर्चित दारोगा पर कितनी और क्या कार्यवाई होती है और उक्त दारोगा से स्थानीय बाजार वासियों को कब तक छुटकारा मिल पाता है?

Previous articleजौनपुर : डॉक्टर से रंगदारी मांगने व जान से मारने की धमकी देने वाले दो बदमाश गिरफ्तार
Next articleजौनपुर : खड़े-खड़े कबाड़ हो रहे 1.5 करोड़ के 23 वाहन, फांक रहे हैं 4 महीने से धूल
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏