जौनपुर : भाईचारे का संदेश लेकर आता है होली का त्यौहार- रजनीश

जौनपुर : भाईचारे का संदेश लेकर आता है होली का त्यौहार- रजनीश

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
              भाइचारे को मजबूत बनाने एंव होली का पर्व कोरोना काल में कैसे मनाये विषय पर एक आवश्यक गोष्ठी का आयोजन जमैथा ग्राम मे किया गया। गोष्ठी को सम्बोधित करते हुए अधिवक्ता रजनीश कुमार शुक्ला ने कहा कि होली का पर्व प्रतिवर्ष भाई चारे का संदेश लेकर आता है यह पर्व पूरे विश्व मे किसी न किसी रुप मे मनाया जाता है जो आपसी कटुता, भेदभाव, उंचनीच सहित समस्त बुराइयों को त्याग कर मिलजुल कर रहने का पैगाम लेकर आता है।

अधिवक्ता रविशंकर शुक्ला भोला ने कहा कि होली मनाने की परंम्परा मे लगातार गिरावट आने से बुद्धिजीवी वर्ग दूर होता जा रहा है जिससे यह पवित्र पर्व अभ्रदता का रुप लेता जा रहा है इसके लिए मुख्य रुप से बुद्धिजीवी वर्ग ही दोषी है। अधिवक्ता रजनीश कुमार शुक्ला ने कहा कि इस पर्व पर अबीर, गुलाल रंग के बजाय कालिख, कोलतार, नाली का कीचड़ प्रयोग करने की परम्परा बन गयी है जिससे होली का पर्व कलंकित हो रहा है इसको दूर करने के लिए समाज सेवी संगठनों, जनप्रतिनिधियों तथा बुद्धिजीवी वर्ग को आगे आकर युवा वर्ग का मार्ग दर्शन करना चाहिए ताकि यह पर्व अपने पुरानी स्वरुप को ग्रहण कर सके।

युवा नेता सुदर्शन सिंह ने कहा आज का युवा वर्ग दिगभ्रमित हो गया है जिसको दूर करने के लिए मार्गदर्शन करना चाहिए। अभ्रदता, अश्लीलता, नशा सेवन फैशन बन गया है जिसे रोकना सभी लोगो का नैतिक दायित्व है। गोष्ठी मे सुजीत शुक्ला, कल्लू सिंह, राहुल मौर्य, प्रदीप शुक्ला, लालू, साहुल, डॉ कोमल यादव, मंगल सिंह पिंकू, जयहिंद यादव, गप्पू सिंह, चंचल सिंह, पंचू सिंह, आशु यादव, रिंकू, सचिन विश्वकर्मा आदि लोग प्रमुख रुप से मौजूद थे। संचालन युवा अधिवक्ता रविशंकर यादव ने किया।
Mar 21, 2021

Previous articleजौनपुर : इब्सेन ने नार्वे के साहित्य जगत को दी नई दिशा- प्रो निर्मला एस मौर्य
Next articleजौनपुर : होली और रमजान माह को देखते हुए बुलाई गई शांति समिति की बैठक
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏