जौनपुर : भू-माफिया पर फर्जी रजिस्ट्री करने, साजिश रचने एंव जालसाजी का मुकदमा दर्ज..

जौनपुर : भू-माफिया पर फर्जी रजिस्ट्री करने, साजिश रचने एंव जालसाजी का मुकदमा दर्ज..

# भू-माफिया समेत कुल 13 लोगों पर गम्भीर धाराओं मुकदमा दर्ज

# सप्ताह भीतर रिपोर्ट प्रस्तुत करने का न्यायालय का आदेश

शाहगंज।
रवि शंकर वर्मा
तहलका 24×7
                   अवैध ढंग से जमीन की खरीद- फरोख्त करने वाले भू-माफिया सिकन्दर आलम समेत 13 आरोपियों के खिलाफ शाहगंज कोतवाली में न्यायालय के आदेश पर फर्जी रजिस्ट्री कराने, साजिश रचने एंव जालसाजी का मुकदमा दर्ज कराया गया है। हेराफेरी कर दूसरे की जमीन पर कब्जा कर कूटरचित साजिश करने वाला भू माफिया सिकंदर आलम पुत्र अब्दुल जब्बार निवासी पारा कमाल सहित 13 लोगों के खिलाफ फर्जी रजिस्ट्री करने एंव जालसाजी करने की सुसंगत धारा 419, 420, 467, 471, 468, 120 बी के तहत न्यायालय के आदेश पर शाहगंज कोतवाली में मुकदमा दर्ज किया गया है।
नगर निवासी सुजीत जायसवाल ने कोर्ट प्रार्थना पत्र देते हुए आरोप लगाया था कि आरोपी सिकंदर आलम द्वारा गलत लोगों से फर्जी बैनामा कराया गया जो उसके मालिक थे ही नहीं.. और उस फर्जी बैनामा के आधार पर खेतासराय में जमीन मालिक सुजीत जायसवाल के जमीन को अपना बता कर कब्जा करने का प्रयास कर रहा था जिसकी सूचना मिलने पर सुजीत जायसवाल ने एसपी जौनपुर को शिकायत किया। लेकिन कार्यवाही न होने पर न्यायालय में अपना वाद प्रस्तुत किया जिसमें न्यायालय मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने सभी साक्ष्य का अवलोकन करते हुए मामले में संलिप्त आरोपियों पर मुकदमा दर्ज कर सात दिन के भीतर रिपोर्ट प्रस्तुत करने का आदेश दिया।
न्यायालय के आदेश पर पुलिस सिकंदर आलम निवासी पारा कमाल, अरमान अहमद, आफताब अहमद, अब्दुल मजीद, इरशाद अहमद, इम्तियाज अहमद, मो. सईद, हसीन बेगम, नियाज अहमद, नसीम अहमद, वकील अहमद, जमील अहमद, इमरान खान पर जालसाजी और साजिश रचने की धाराओं में केस दर्ज कर जांच में जुटी है।
पीड़ित द्वारा जालसाजी के मुख्य आरोपी बताए गए सिकंदर आलम के खिलाफ मुख्यमंत्री से शिकायत कर जांच की अपील की है। फ़िलहाल गिरफ्तारी की आशंका से आरोपी फरार बताए जा रहे हैं। सूत्रों की माने उक्त आरोपी पर सत्ता पक्ष के एक नेता का वरदहस्त प्राप्त है। भू-माफिया पर एक दर्जन से अधिक गंभीर मुकदमों में आरोपी है। सरकारी भूमि पर कब्जे को लेकर भाई नैय्यर आलम वर्तमान समय में जेल में है। मामले में प्रभारी निरीक्षक सुधीर कुमार आर्य ने बताया कि न्यायालय के आदेश पर केस दर्ज करके जांच की जा रही है। दोषी पाए जाने पर गिरफ्तारी की जाएगी।
Previous articleजौनपुर : प्रत्याशियों और चुनाव अधिकारियों के बीच बैठक में अहम निर्णय
Next articleजौनपुर : गणपति पूजा पर गाइडलाइंस न आने से महासमिति के पदाधिकारियों में आक्रोश
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏