जौनपुर : महाविद्यालय के दागी शिक्षक नहीं बनेंगे परीक्षक

जौनपुर : महाविद्यालय के दागी शिक्षक नहीं बनेंगे परीक्षक

जौनपुर।
विश्व प्रकाश श्रीवास्तव
तहलका 24×7
                 वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक ने संबद्ध समस्त महाविद्यालय के प्राचार्य एवं प्रबंधक को पत्र जारी किया है। उन्होंने कहा है कि सत्र 2021-22 की मौखिक प्रायोगिक परीक्षा एवं मूल्यांकन के लिए परीक्षक नामित किए जाने के लिए प्राचार्य से प्रवक्ताओं की सूची उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है।
परीक्षा नियंत्रक बीएन सिंह ने विश्वविद्यालय से संबद्ध महाविद्यालय में कार्यरत अनुदानित, मानदेय, स्ववित्त पोषित योजना के तहत अनुमोदित एवं अद्यतन लगातार कार्यरत प्राचार्य, प्रवक्ताओं का विवरण, उच्च शिक्षा निदेशालय से अनुमोदित मानदेय प्रवक्ताओं का विवरण 18 नवंबर तक विश्वविद्यालय के गोपनीय विभाग को उपलब्ध कराना जरूरी है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि प्रमाणित किया जाए कि शिक्षकों के विरुद्ध कोई अनुशासनात्मक एवं दंडात्मक कार्रवाई प्रचलित नहीं है तथा इन्हें विश्वविद्यालय परीक्षा कार्य से प्रतिबंधित नहीं किया गया है।
महाविद्यालय के जिम्मेदार प्राचार्य, प्रवक्ताओं का नाम, यूजी-पीजी विषय, जन्मतिथि, अनुमोदन तिथि, कार्यभार ग्रहण की तिथि, मोबाइल नंबर के साथ सीलबंद लिफाफा विश्वविद्यालय के गोपनीय विभाग में जमा करेंगे। इसके अलावा विश्वविद्यालय प्रशासन ने तीन अन्य बिदुओं पर भी जानकारी मांगी है। कहा कि विश्वविद्यालय अनुमोदन पत्र की एक सत्यापित प्रति, प्राचार्य का उक्त शिक्षकों का अद्यतन लगातार कार्यरत होने का अनुभव प्रमाण पत्र मूल, न्यूनतम दो वर्ष के अंतिम वेतन भुगतान किए जाने संबंधी बैंक पासबुक की छायाप्रति भी उपलब्ध कराना जरूरी होगा।

Earn Money Online

Previous articleजौनपुर : धान के खेत में मिला अज्ञात युवक का अर्धनग्न शव, क्षेत्र में मची सनसनी
Next articleजौनपुर : नायिका मेगा इवेंट के तहत छात्राएं बनी एक दिवसीय अधिकारी
तहलका24x7 की मुहिम... "सांसे हो रही है कम, आओ मिलकर पेड़ लगाएं हम" से जुड़े और पर्यावरण संतुलन के लिए एक पौधा अवश्य लगाएं..... 🙏